सिवान में कड़ाके की ठंड के बीच दोनों अनुमंडल कार्यालय में चार प्रमुख व उपप्रमुख का हुआ चयन

0
  • लाटरी से बसंतपुर के प्रखंड प्रमुख बने कन्हैया तो भगवानपुर में निर्विरोध चुने गए आशोक
  • मैरवा में वीरेंद्र भगत तो गुठनी में विंध्यवासिनी नारायण सिंह ने प्रमुख की कुर्सी पर जमाया कब्जा

✍️परवेज अख्तर/एडिटर इन चीफ:
सिवान जिले के चार प्रखंड में बुधवार को बारिश और कड़ाके की ठंड के बीच प्रखंड प्रमुख व उप प्रमुख का चुनाव कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच शांतिपूर्वक तरीके से हुआ। सदर अनुमंडल कार्यालय एसडीओ रामबाबू बैठा की निगरानी में मैरवा व गुठनी तथा महाराजगंज अनुमंडल कार्यालय में एसडीओ संजय कुमार की अध्यक्षता में भगवानपुर व बसंतपुर प्रखंड का चुनाव कराया गया। इस दौरान किसी को लाटरी के माध्यम से पद मिला तो किसी ने अपने विरोधी प्रत्याशी को मतदान में पराजित करते हुए जीत हासिल की। चुनाव को लेकर पूरे दिन अनुमंडल कार्यालय में गहमागहमी बनी रही। प्राप्त जानकारी के अनुसार मैरवा में जहां वीरेंद्र भगत कुल 12 में से 10 मत लाकर प्रखंड प्रमुख बने वहीं प्रतिद्वंदी श्रीप्रकाश राम को मात्र दो मत मिले। जबकि चंदा देवी ने प्रतिद्वंदी को हराकर जीत हासिल करने में कामयाब रहीं।

विज्ञापन
WhatsApp Image 2023-01-25 at 10.13.33 PM
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

WhatsApp Image 2021 12 29 at 8.23.28 PM

गुठनी में विंध्यवासिनी नारायण सिंह को जहां 8 मत प्राप्त किए, वहीं प्रतिद्वंदी विनीत नाथ तिवारी को कुल छह मत मिले। इस प्रकार विंध्यवासिनी नारायण सिंह ने प्रमुख की कुर्सी पर कब्जा जमा लिया। जबकि उप प्रमुख पद के लिए प्रभावती देवी व रवींद्र प्रसाद ने अपना नामांकन कराया। इस दौरान वोटिंग प्रक्रिया पूरी होने पर प्रभावती देवी को उप प्रमुख चुन लिया गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार मैरवा प्रखंड के प्रमुख पद पर वीरेंद्र भगत चुने गए। इससे पूर्व सदर एसडीओ रामबाबू बैठा के चेंबर में मैरवा व गुठनी प्रखंड के पंचायत समिति सदस्यों को शपथ दिलाई। इसके उपरांत प्रखंड प्रमुख का चुनाव कराया गया। मैरवा प्रखंड के कबीरपुर पंचायत के बीडीसी सदस्य वीरेंद्र भगत तथा बभनैली पंचायत के बीडीसी सदस्य श्रीराम ने प्रमुख पद के लिए पर्चा भरा। इसमें वींरेंद्र भगत को 10 वोट मिले, जबकि श्रीराम को मात्र दो वोट से ही संतोष करना पड़ा। वहीं उप प्रमुख पद के लिए चंदा देवी को 9 मत मिले। जबकि प्रतिद्वंदी सुमन देवी को तीन मत मिले। प्रमुख बनने के बाद वींरेंद्र भगत ने कहा कि सम्मिलित प्रयासों से प्रखंड क्षेत्र का विकास किया जाएगा।