145 वीं जयंती पर याद किए गए स्वतंत्रता सेनानी ब्रज किशोर बाबू

0

परवेज अख्तर/सिवान: शहर के श्रीनगर स्थित बीके डीएवी पब्लिक स्कूल परिसर में शुक्रवार को जिले की माटी के सपूत सह महान स्वतंत्रता सेनानी ब्रजकिशोर प्रसाद की 145वीं जयंती कोविड 19 के दिशा निर्देशों के अनुरूप मनाई गई। स्कूल के प्राचार्य वी आनंद कुमार के नेतृत्व में आयोजित जयंती समारोह के प्रारंभ में ब्रजकिशोर बाबू के तैलचित्र पर माल्यार्पण कर पुष्प अर्पित किया गया। इसके बाद डीएवी पब्लिक स्कूल्स की परंपरा के अनुसार वैदिक तौर तरीकों से हवन एवं भजन के कार्यक्रम भी संयोजित किए गए। शिक्षाविद वी आनंद कुमार ने ब्रजकिशोर बाबू की जीवनी से भावी पीढ़ी को प्रेरणा ग्रहण करने पर बल दिया। वहीं दूसरी ओर अयोध्यापुरी स्थित पाठक आईएएस संस्थान में निदेशक के नेतृत्व में जयंती मनाई गई।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

उनके व्यक्तित्व व कृतित्व पर प्रकाश डालते हुए गणेश दत्त पाठक ने कहा कि बृजकिशोर बाबू समर्पण, संवेदना व संचेतना के प्रतीक पुरुष थे। उनका भारत की स्वतंत्रता के लिए चले राष्ट्रीय आंदोलन में महत्वपूर्ण योगदान रहा। चंपारण सत्याग्रह, असहयोग आंदोलन, नमक सत्याग्रह आदि में उनकी रणनीति ने ब्रिटिश हुकूमत को खासी चुनौती पेश की थी। मौके पर ब्रजकिशोर नवनिर्माण संस्थान के सचिव सुनील कुमार सिन्हा, बीके डीएवी पब्लिक स्कूल की प्रभारी सीमा पांडेय, शिक्षक राकेश चौधरी, श्रीकांत दुबे, पंकज झा, संजय मिश्रा, अनूप शुक्ला, निरंजन पांडेय, राघवेंद्र सिंह, अंकुश कुमार, प्रज्ञा रानी, भारती कुमारी सहित अन्य शिक्षक-शिक्षकाएं उपस्थित रहीं।