महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म मामले में वीडियो बनाने वाले युवक को 67 आईटी एक्ट के अंतर्गत तलाश रही है पुलिस

0
  • घटना में शामिल चार आरोपियों को पुलिस भेज चुकी है जेल
  • आंदर सर्किल इंस्पेक्टर के नेतृत्व में छापेमारी जारी
  • मामला: आंदर थाना क्षेत्र का

परवेज़ अख्तर/सीवान : जिले के आंदर थाना क्षेत्र के एक गांव में विगत दिनों हुए सामूहिक दुष्कर्म के मामले में वीडियो बनाने वाले युवक को पुलिस सरगर्मी से तलाश रही है. हालांकि वह अभी तक पुलिस गिरफ्त से दूर है. यहां बताते चलें कि मंगलवार एसपी नवीन अभिनव कुमार के निर्देश के आलोक में एसआईटी टीम ने  आंदर प्रभाग के सर्किल इंस्पेक्टर रणधीर कुमार के नेतृत्व में छापेमारी कर जिले के अलग-अलग स्थानों से चार आरोपियों को गिरफ्तार कर पुलिस ने बुधवार को जेल भेज दिया है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
ads

इस घटना को लेकर आंदर थाना अध्यक्ष कैप्टन शाहनवाज के फर्द बयान के आधार पर आंदर थाना कांड संख्या 146/20 दर्ज की गई है. जिसमें कुल सात लोगों को आरोपित किया गया है. इसी मामले में पुलिस ने दुष्कर्म की घटना का वीडियो बनाने वाले युवक को सरगर्मी से तलाश कर रही है. आंदर प्रभाग के सर्किल इंस्पेक्टर रणधीर कुमार ने बताया कि 67 आईटी एक्ट के तहत धाराओं के अंतर्गत वीडियो बनाने वाले युवक को आरोपित किया गया है. जिसको 67 आइटी एक्ट में तलाश की जा रही है. उन्होंने बताया कि उसकी गिरफ्तारी के बाद ही घटना के अन्य तथ्यों से पर्दा उठेगा. उन्होंने बताया कि 376(D)भा.द.वी. के अंतर्गत चार आरोपियों को जेल भेजा जा चुका है।

कैसे होगा मुकदमे का निवारण ? पीड़िता का सुराग नहीं

सामूहिक दुष्कर्म के मुकदमे का निवारण कैसे होगा, जबकि पीड़िता का कोई सुराग नहीं लग रहा है. उधर एसपी अभिनव कुमार द्वारा बनाई गई टीम भी पीड़िता को भी घटना के बारे में बयान लेने के लिए सरगर्मी से तलाश कर रही है. हालांकि अबतक पीड़िता का कोई सुराग नहीं लग सका है. आंदर प्रभाग के सर्किल इंस्पेक्टर रणधीर कुमार ने बताया कि वायरल वीडियो फुटेज के आधार पर स्थानीय हल्का चौकीदार के शिनाख्त पर अलग-अलग स्थानों से चार लोगों को गिरफ्तार कर बुधवार को मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी के न्यायालय में प्रस्तुत किया गया. जहां न्यायाधीश ने चारों को रिमांड करते हुए जेल की हवा खिला दी.

बारीकी पूर्वक चारों को मेडिकल टीम ने की जांच

बुधवार की देर शाम गिरफ्तार चारों मनचलों को सदर अस्पताल में तैनात चिकित्सा पदाधिकारी डॉ विजय कुमार के द्वारा बारीकी पूर्वक मेडिकल जांच की गई. इस संदर्भ में जांच कर रहे चिकित्सक डॉ विजय कुमार ने बताया कि पूर्ण रूप से जांच आने के बाद यह पता चलेगा कि कौन कौन से गिरफ्तार युवकों द्वारा महिला के साथ दुष्कर्म की घटना घटित की गई है.