मैरवा के बंगरा में जमीन विवाद में गरजी बंदूकें

0

​परवेज़ अख्तर/सीवान:- जिले के मैरवा थाना क्षेत्र के बंगरा गांव में सोमवार को मकान रंगने के विवाद में गोली चल गयी। एक पक्ष ने मकान के रंगने का विरोध करते हुए लाइसेंसी बंदूक से फायरिंग कर दी। गांव में गोली चलने के बाद अफरा -तफरी मच गयी। पांच राउंड फायरिंग के बाद मकान में रहने वाले मजदूरों ने घर से भागकर किसी तरह अपनी जान बचायी। इस दौरान मकान रंग रहे मजदूर और महिला की पिटाई कर दी गयी। जिसमें महिला मिथला देवी गंभीर रूप से घायल हो गयी। पुलिस मौके पर पहुंच कर मामले की जांच कर रही है। सूत्रों ने बताया कि बंगरा गांव में सीआरपीएफ के जवान सोनू सिंह के घर में रंग रोगन का कार्य चल रहा था। अगले माह घर में शादी होने को लेकर मकान के सामने का हिस्सा रंगा जा रहा था। इसी दौरान उनके पट्टीदार बबलू सिंह ने रंगायी कार्य का विरोध करते हुए कार्य को रोके जाने की बात कही। बबलू सिंह सांसद के प्रखंड प्रतिनिधि बताये जा रहे है। बबलू सिंह मकान के आधे हिस्से को अपनी जमीन में होने का दावा कर रहे थे। विरोध के बाद रंगाई कार्य को नहीं रोका गया तो रंगाई का कार्य कर रहे मजदूर की पिटाई कर भगा दिया। बीच बचाव में गयी सोनू की मां मिथला सिंह की पिटाई कर दी गयी। दोनों पक्ष के बीच विवाद के बाद मारपीट होने लगी। मारपीट के दौरान ही बबूल सिंह ने लाइसेंसी गन से सोनू सिंह के मकान पर फायरिंग कर दी।

पांच राउंड गोलियां चलाई

मकान की खिड़की पर पांच राउंड गोलियां चलाई गयी। गोली चलाये जाने के बाद सोनू सिंह के परिजन घर से बाहर निकल गये। गोली चलाये जाने के समय सोनू सिंह घर में नहीं था। घर में मौजूद लोग जान बचाने के लिए इधर उधर भागने लगे। फायरिंग में अवैध हथियार के प्रयोग का आरोप भी लगाया गया है। सोनू सिंह ने आवेदन में बबलू सिंह, उमेश सिंह, विजय सिंह, वकील सिंह समेत नौ लोगों को आरोपित किया है। गोली चलने की सूचना के बाद थानाध्यक्ष संजीव कुमार निराला ने मौके पर जाकर मामले की छानबीन की। सोनू सिंह के परिजनों ने गोली चलाये जाने का वीडियो फुटेज भी पुलिस को दिखाया है। इस संबंध में पुलिस ने बताया कि मकान रंगने के विवाद में गोली चलाये जाने का आवेदन मिला है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। गोली चलाने का आरोपित गांव से फरार है। जांच के बाद ही स्थिति स्पष्ट होगी।[sg_popup id=”5″ event=”onload”][/sg_popup]

Loading...