गूगल संस्कृत सहचर पुस्तक का हुआ लोकार्पण

0

भाषाओं की जननी है संस्कृत पाठक

वैज्ञानिकों ने लोहा माना संस्कृत का

परवेज अख्‍तर, सिवान:- जिले के जीरादेई प्रखण्ड मुख्यालय स्थित महेंद्र उच्च विद्यालय सह इंटर कालेज के परिसर में व्याख्याता राकेश कुमार पांडेय द्वारा विरचित गूगल संस्कृत सहचर का लोकार्पण बुधवार की शाम को माध्यमिक शिक्षक संघ के जिला अध्यक्ष बागजेंद्र नाथ पाठक ने किया। श्री पाठक ने कहा कि संस्कृत भाषाओं की जननी है व् हमारी सभ्यता तथा संस्कृति की पहचान है। उन्होंने कहा कि गूगल संस्कृत सहचर पुस्तक छात्रों व् शिक्षकों के लिये काफी उपयोगी है।

प्राचार्य रामविलास प्रसाद ने कहा कि नासा के वैज्ञानिको ने संस्कृत को वैज्ञानिक भाषा माना है तथा इस पर बहुत बड़ी खोज कर रहा है ।मंच का संचालन व्याख्याता अनिरुद्ध कुमार ने किया ।इस मौके पर दामोदर पांडेय ,रमाकांत पांडेय ,व्यापार मंडल जीरादेई के अध्यक्ष चंद्रशेखर सिंह ,सुनील दुबे ,मनोरजन सिंह ,वीरेंदर सिंह ,सर्वानन्द पांडेय ,अनिल पांडेय ,सच्चितानंद पांडेय ,मुकेश कुमार ,सचिन कुमार ,अनिश कुमार ,रामजतन सिंह मनन सिंह ,रामेश्वर सिंह ,हरिकांत सिंह ,सुधीर शर्मा ,सुशील मिश्रा ,गौतम कुमार ,संतोष सिंह विवेकानंद मिश्र सहित काफी संख्या में शिक्षक व् छात्र उपस्थित थे।

Loading...