गोपालगंज: भोरे में देशी कट्टा के साथ भोजपुरी गाना पर डांस, तीन गिरफ्तार

0

परवेज अख्तर/एडिटर इन चीफ: भोरे में देसी कट्टा के साथ किशोर का डिस्को डांस,जी आपने ठीक सुना मामला यहीं है, आखिर यह मामला सामने कैसे आया तो हम आपको बता रहे हैं, कि आजकल बिहार के भोजपुरी के महान गायक लोग, एक अजीब तरह का हथियार के साथ सॉन्ग को अपलोड कर उसे चलचित्र पर दिखा रहे हैं, लेकिन इस नकल का असर अब बिहार के पुलिस थानों के फर्स्ट इनफॉरमेशन रिपोर्ट में भी दर्ज की जा रही है, जो सोशल मीडिया पर सॉन्ग के साथ हथियार लहरा कर और डांस का परफारमेंस कर अपलोड कर रहे हैं, उन्हे अब पुलिस उठा कर जेल भेजना भी शुरू कर दी है, कारण बिहार में बिना लाइसेंस के हथियार के साथ पकड़े जाने पर आईपीसी संख्या 27 के तहत जेल भेजने का प्रावधान है, यह पूरा मामला गोपालगंज जिले के भोरे थाना इलाके के लछीचक गांव से सामने आया है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

जहां वायरल वीडियो के आधार पर पुलिस ने तीन युवकों को गिरफ्तार कर आज जेल भेज दिया है, बताया जाता है कि स्थानीय थाना इलाके के लछीचक गांव के समीप एक निजी विद्यालय की गेट के सामने राजेश राम का पुत्र सूरज कुमार गांव के ही जितेंद्र सिंह के पुत्र सूड्ड कुमार निजी स्कूल के गेट के सामने गए और उन्होंने एल्बम लिपस्टिक खराब होगा काजल नहीं, स्वर् नील कमल सिंह और शिल्पी राज के गाए गीत का नकल कर, देसी कट्टा के साथ डांस करते हुए टिक टॉक पर वीडियो अपलोड कर लिए, लेकिन इनके तीन साथियों में किसी ने इस वीडियो को सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया,और यह वीडियो इतना तेजी से वायरल हुआ कि भोरे पुलिस के हाथ लग गया.

हाथ लगने के बाद प्रभारी थाना अध्यक्ष संपूर्णानंद ने वायरल वीडियो की जांच पड़ताल शुरू कर दी, और चौकीदार के शिनाख्त के बाद पुलिस ने छापेमारी करते हुए, थाना इलाके के लच्छी चक गांव से राजेश राम का पुत्र सूरज कुमार, जितेंद्र सिंह का पुत्र सुडु कुमार, और थाना इलाके के मिश्र बगहवा गांव निवासी धनेश राम के पुत्र राजू कुमार को गिरफ्तार कर लिया, हालांकि गिरफ्तार किए गए तीनों युवकों के परिजनों के मुताबिक यह तीनों छात्र है, बरहाल इस मामले में भोरे पुलिस देसी कट्टा को बरामद नहीं कर पाई है, वहीं इस मामले में गोपालगंज एसपी आनंद कुमार ने बताया कि एक किशोर का वीडियो हथियार के साथ सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा था, जिसको लेकर भोरे पुलिस को निर्देश दिया गया था, पुलिस ने वायरल वीडियो के आधार पर किशोर सहित उसके साथियों को गिरफ्तार किया है, हालांकि उन्होंने यह भी बताया कि सोशल मीडिया पर पुलिस की पैनी नजर है, इस तरह के मामले सामने आने के बाद, किसी भी हालात में आरोपियों को बख्शा नहीं जाएगा,उन्हें सीधा गिरफ्तार कर जेल की सलाखों के पीछे भेजा जाएगा।