गोपालगंज: कोविड-19 जांच के लिए मोबाइल टेस्टिंग वैन को हरी झंडी दिखाकर डीएम ने किया रवाना

0
  • अब चलंत वाहन से गांव में होगा कोरोना का जांच
  • रैपिड एंटीजन किट के माध्यम से किया जाएगा जांच

गोपालगंज: वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर जिला प्रशासन सजग व प्रयासरत है। जिलाधिकारी डॉ नवल किशोर चौधरी के नेतृत्व में कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए सकारात्मक पहल की जा रही है। इसी कड़ी में जिलाधिकारी के निर्देशानुसार जिले के प्रखंडों में चलंत वाहन के माध्यम से कोविड-19 जांच किया जाएगा। शुक्रवार को जिलाधिकारी डॉ नवल किशोर चौधरी ने मोबाइल टेस्टिंग वैन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस दौरान जिलाधिकारी डॉ नवल किशोर चौधरी ने बताया कि जिले के भोरे, बैकुंठपुर, माझा, कुचायकोट, उचकागांव बरौली, हथुआ, सदर प्रखंड में आरबीएसके के अंतर्गत चलने वाले वाहनों के माध्यम से कोविड-19 का जांच गांव में जाकर किया जाएगा। जिलाधिकारी ने बताया कि कोरोना के जांच में तेजी लाने के उद्देश्य से चलंत वाहन जांच की सुविधा शुरू की गई है, जितना अधिक जांच होगा, कोरोना के खिलाफ हमारी लड़ाई उतना ही मजबूत होगी। जिलाधिकारी ने जिलेवासियों से अपील करते हुए कहा कि अगर थोड़ा सा भी आपको लक्षण दिखे तो कोविड का जांच जरूर कराएं, जितना जल्दी जांच होगा उतना जल्दी उपचार शुरू होगा। इससे आप की स्थिति गंभीर होने से बच सकती है। उन्होंने कहा कि बीमारी को छुपाने से स्थिति गंभीर हो सकती है, इसलिए बीमारी को छुपाए नहीं।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

corona

प्रत्येक वाहन पर एक एएनएम तथा एक लैब टेक्नीशियन है तैनात

जिलाधिकारी डॉ नवल किशोर चौधरी ने बताया कि सभी चलंत जांच वाहनों पर एक एएनएम व एक लैब टेक्नीशियन को पर्याप्त मात्रा में एंटीजन कीट की उपलब्धता के साथ ड्यूटी लगाई गई है। मोबाइल टेस्टिंग वैन के द्वारा प्रखंडों के विभिन्न गांवों में जाकर रैपिड एंटीजन कीट के माध्यम से कोविड-19 की जांच की जाएगी। जिलाधिकारी ने कहा कि एंटीजन की जांच के लिए शहरों बाजारों एवं गांव में चिन्हित स्थान स्थापित कर जांच कराई जाएगी।

ऑडियो के माध्यम से किया जाएगा प्रचार प्रसार

जिलाधिकारी डॉ नवल किशोर चौधरी ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में अलग-अलग जगहों पर एंटीजन जांच के लिए वाहन पर माइक लगाकर कोविड-19 से संबंधित प्रचार प्रसार करना सुनिश्चित करें। साथ ही वाहन पर एएनएम व एलटी के माध्यम से कोविड-19 का जांच कराना सुनिश्चित करेंगे । जिलाधिकारी ने निर्देश देते हुए कहा कि जांच किए गए प्रतिवेदनों को कोविड-19 पोर्टल पर उसी दिन अपलोड करना सुनिश्चित किया जाए । जिन व्यक्तियों का कोविड-19 रिपोर्ट पॉजिटिव आ रहा है तो उन्हें मौके पर ही दवा की किट उपलब्ध कराई जाए।