गोपालगंज: निशुल्क स्वास्थ्य शिविर में सैकड़ों ग्रामीणों का हुआ एचआईवी की जांच

0

गोपालगंज: मंगलवार को हथुआ प्रखंड के कुसौंधी राजकीय मध्य विद्यालय में बिहार राज्य एड्स नियंत्रण समिति पटना एवं हिंदुस्तान लेटेक्स फैमिली प्लैनिंग प्रमोशन ट्रस्ट के संयुक्त तत्वाधान में संचालित अहाना कार्यक्रम द्वारा एचआईवी रोग की जांच हुई साथ ही साथ ग्रामीणों की निशुल्क स्वास्थ्य जांच की गई। इस कार्यक्रम के आयोजन की खबर पर आसपास के ग्रामीणों की भीड़ उमड़ पड़ी जिसमें महिलाओं की संख्या ज्यादा थी। इस कैंप में महिला चिकित्सक डॉ आशा कुमारी ने गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य परीक्षण करके जरूरतमंद गर्भवती महिलाओं में दवा और विटामिन की वितरण की व्यवस्था कराई, वही डॉ निरंजन कुमार ने इस कैंप में आने वाले ग्रामीणों का हिमोग्लोबिन ,ब्लड प्रेशर और डायबिटीज आदि की जांच की। अहान कार्यक्रम के सौजन्य से हुए कार्यक्रम का संचालन पीओ अजय कुमार बरनवाल किया गया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 7.27.12 PM
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

इस कैंप में 192 गर्भवती महिलाएं एवं साठ अन्य लोगों की स्वास्थ्य परीक्षण किया गया साथ ही में सबकी एचआईवी की जांच की गई। स्वास्थ शिविर में हथुआ पीएचसी के बीएचएम प्रियंका प्रिया, डॉ आशा कुमारी, डॉ निरंजन कुमार, एएनएम आशा कुमारी, साधना कुमारी, रीता कुमारी ,रानी कुमारी आदि का सराहनीय योगदान रहा। वही इसके सफल बनाने में विद्यालय के प्रभारी प्रधानाध्यापक अमित कुमार राय और विद्यालय के अन्य शिक्षक गणों भी विशेष भूमिका निभाई।बताते चलें कि इसके पूर्व में बड़कागांव और सिगंहा में भी इस कैंप का सफल आयोजन किया गया था और स्थानीय ग्रामीणों की स्वास्थ्य जांच की गई थी। वही अगला स्वास्थ्य जांच कार्यक्रम 31 दिसंबर को बरई पट्टी हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर पर कार्यक्रम का आयोजन करने का प्रस्ताव है।

महिलाओं में हिमोग्लोबिन की कमी चिंताजनक: डा आशा

स्वास्थ्य शिविर के संपन्न होने के बाद महिला चिकित्सक डॉ आशा कुमारी ने बताया कि अधिकांश गर्भवती व अन्य महिलाओं के स्वास्थ्य जांच में हिमोग्लोबिन की कमी पाया गया जो चिंता की बात है।इसके लिए सभी संबंधित महिलाओं को हिमोग्लोबिन के कमी की समस्या से निदान हेतु सलाह दिया गया और उचित उपाय बताए गए। वही अधिकांश ग्रामीण पुरुषों में ब्लड प्रेशर की समस्या पाई गई और गंभीर बात यह रहे की उन्हें इस बात का आभास तक ना था। कार्यक्रम के समापन के बाद उन्होंने ग्रामीणों से कहा कि यदि किसी और ग्रामीण की स्वास्थ्य जांच करानी हो तो वह 31 दिसंबर को बरई पट्टी गांव में आकर निशुल्क सेवा ले सकते हैं। ग्रामीणों के लिए लगाई गई स्वास्थ्य शिविर के आयोजन को लेकर स्थानीय मुखिया फातिमा , मुखिया पति बीडीसी ब्रजकिशोर राम और अन्य जनप्रतिनिधि एवं समाजसेवियों ने आभार प्रकट किया है।