गोपालगंज: मांझा प्रखंड में आठ गांवों की छह हजार की आबादी बाढ़ से घिरी

0

गोपालगंज: वाल्मिकी नगर बराज से लगातार पानी छोड़े जाने व लगातार बारिश के कारण प्रखंड के दियारा इलाके में तेजी से बाढ़ का पानी फैलता जा रहा है। अबतक प्रखंड के दियारा क्षेत्र के आठ गांवों की करीब छह हजार की आबादी बाढ़ से प्रभावित हुई है। ऐसे में बाढ़ की पानी से घिरे परिवारों के लोग अपने घरों से पलायन करने लगे हैं। प्रभावित गांवों में जानमाल की सुरक्षा को लेकर लोगों में भय का माहौल है। प्रशासन की ओर से अभी तक बाढ़ के पानी में घिरे लोगों को बाहर निकालने की कोई व्यवस्था ही नहीं की गई है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM
WhatsApp Image 2022-09-27 at 9.29.39 PM

जानकारी के अनुसार शुक्रवार को 4 लाख क्यूसेक से अधिक पानी गंडक नदी में छोड़े जाने के बाद तेजी से नदी पानी बढ़ने लगा था। शनिवार की देर शाम नदी का पानी दियारा इलाके में पहुंच गया, जिससे नदी के निचले हिस्से में बसे गांवों के लोगों की मुश्किलें बढ़ गई। नदी का जलस्तर तेजी से बढ़ने के कारण सारण तटबंध पर भी पानी का दबाव बढ़ गया है। स्थानीय लोग नदी के लगातार बढ़ते जलस्तर को देखकर परिवार के लोगों के साथ पलायन करने को मजबूर हैं लेकिन अब तक कोई मदद प्रशासन की ओर से नहीं मिल सकी है। प्रखंड क्षेत्र के निमुइयां पंचायत के विशुनपुर, मथुरा साह के टोला, माघी, नया टोला, विनोद साहनी के टोला, मुंगरहा, केरवानीया टोला, विशुन साहनी के टोला, गौसियां वृति टोला, मदन मुखिया के टोला, बलुआ टोला व पुरैना पंचायत के इशुआपुर, भैसही पंचायत के बलुही मलाही टोला सहित अन्य कई गांव के लोों की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही है।