गोपालगंज: बिजली कंपनी की टीम करेगी छापेमारी, चोरी मिलने पर दर्ज होगी प्राथमिकी

0
  • जेई के नेतृत्व में अवर प्रमंडल वार छापेमारी दल का हुआ गठन
  • स्वीकृत भार से अधिक बिजली उपयोग करने की शिकायत मिलने पर कंपनी ने लिया निर्णय

गोपालगंज: बिजली चोरी व बिना लोड बढ़वाए अवैध रूप से स्वीकृत लोड से अधिक बिजली इस्तेमाल की रोकथाम हेतु बिजली कंपनी की टीम अब घरेलू व व्यवसायिक सभी प्रकार के उपभोक्ताओं के परिसर में छापेमारी करेगी। इसको लेकर अब कंपनी के अधिकारियों ने करवाई भी शुरू कर दी है। मिली जानकारी के अनुसार घर-घर छापेमारी को लेकर कंपनी ने जेई के नेतृत्व में अवर प्रमंडल वार टीम का गठन भी कर लिया है। टीम में शामिल बिजली कंपनी के जेई छापेमारी के दौरान घर मे चल रहे बिजली लोड का ऑन स्पॉट जांच करेंगे। जांच के दौरान उपभोक्ता के घर वास्तविक लोड स्वीकृत लोड से ज्यादा पाए जाने पर संबंधित उपभोक्ता पर जुर्माना लगाते हुए नियमानुसार बिजली चोरी की प्राथमिकी दर्ज कराई जाएगी। ऐसी आशंका है कि कई उपभोक्ता 1 किलोवाट का कनेक्शन लेकर ही अनाधिकृत रूप अधिक बिजली का उपयोग कर रहे है। इससे कंपनी को राजस्व की हानि तो हो रही है, साथ ही लोड बढ़ने से लो वोल्टेज व आपूर्ति में बाधा की भी समस्या उत्पन्न हो जा रही है। ऐसा माना जा सकता है कि उपभोक्ता दिनके बजाए रात के समय एक किलोवाट कनेक्शन पर एयर कंडीशन, फ्रिज, वाशिंग मशीन, आयरन, इंडक्शन जैसे अधिक भार के उपकरण चला रहे है। जिससे ट्रांसफार्मर पर लोड बढ़ने के कारण रात में लो वोल्टेज की समस्या आ रही है। वही उपभोक्ताओं को अधिक लोड वाले उपकरणों को इस्तेमाल से पहले अपने कनेक्शन के स्वीकृत भार को बढ़ा लेने पर कंपनी को यह अनुमान लगाने में आसानी होगी कि किसी क्षेत्र में ट्रांसफर्मर की क्षमता विस्तार की आवश्यकता है या नही।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

एसी लगे घर की बिजली लोड पहले होगी जांच

कंपनी के अधिकारियों ने बताया कि लो वोल्टेज की शिकायत मिलने पर की गई पहली जांच में यह पाया गया कि एक किलोवाट लोड लेकर बिजली उपयोग कर रहे उपभोक्ता भी रात में एसी का उपयोग कर रहा है। हालांकि अधिक लोड होने पर बिल में पेनाल्टी का प्रावधान पहले से ही है। फिर भी उपभोक्ताओं में जागरुकता फैलाने व अवैध चोरी से बचाव के लिए कंपनी की टीम पहले दौर में एसी लगे घरों में बिजली लोड का जांच करेगी। उसके बाद सामान्य उपभोक्ताओं के घरों का बिजली लोड का जांच कराया जाएगा।

लोड बढ़ाने हेतु करें ऑनलाइन आवेदन

ऐसे उपभोक्ताओं को कारर्वाई से बचने हेतु अपना लोड बढ़वाना होगा जिसे घर बैठे ऑनलाइन सुविधा मोबाइल ऐप्प से किया जा सकता है। आवेदन करने हेतु पिछले बिल का पूरा भुगतान होना ज़रूरी है वही मोबाइल नंबर भी लिंक होना चाहिए। आवेदन के पश्चात यूनिक रेफेरेंस नम्बर भी मिलता है जिससे आवेदन की स्थिति पता कि जा सकती है। लोड बढ़ाने हेतु शुल्क अगले बिजली बिल में जोड़कर आता है।

बिजली कंपनी की लगातार हो रही राजस्व क्षति को रोकने व इलाके में लो वोल्टेज की समस्या से निजात दिलाने को लेकर अब बिजली कंपनी की टीम सभी प्रकार के परिसरों में छापेमारी करेगी। इस दौरान वास्तविक भार से ज्यादा बिजली उपयोग करने वाले उपभोक्ताओं पर प्राथमिकी दर्ज कराई जाएगी। छापेमारी को लेकर जेई के नेतृत्व में टीम का गठन किया जा चुका है। कार्रवाई से बचने हेतु सुविधा ऐप्प से लोड बढ़ाने का आवेदन किया जा सकता है।
अजय कुमार, कार्यपालक अभियंता आपूर्ति, गोपालगंज।