गोपालगंज:- सिधवलिया में डिस्टलरी प्लांट के लिए रखी गई आधारशिला

0

गोपालगंज: मगध शुगर इंडस्ट्री कीव यूनिट भारत सूगर मिल्स सिधवलिया चीनी और बिजली उत्पादन के साथ अब इथेनॉल का भी उत्पादन करेगी। चीनी मिल में प्रतिवर्ष छह लाख क्विंटल से अधिक चीनी का उत्पादन किया जाता है। गन्ने की पेराई सत्र के दौरान प्रति घंटे 18 मेगावाट बिजली भी तैयार की जाती है। दो मेगावाट बिजली से फैक्ट्री संचालित होती है। सोलह मेगावाट बिजली प्रतिघंटे पावर ग्रिड को सप्लाई दी जाती है। बुधवार को चीनी मिल के पीछे डिस्टलरी प्लांट के लिए भूमि पूजन किया गया। भूमि पूजन में मुख्य यजमान नरकटियागंज चीनी मिल के डायरेक्टर चंद्र मोहन सिंह एवं भारत सुगर मिल सिधवलिया के जीएम शशि केडिया थे। घंटों पूजा-अर्चना के बाद नारियल फोड़कर आधारशिला रखी गई। जीएम शशि केडिया ने बताया कि शुगर मिल के छोआ से यहां एथेनाल का उत्पादन किया जाएगा।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

प्रतिदिन 75 हजार लीटर की क्षमता वाली यह प्लांट बनेगी। उत्तर बिहार का यह पहला प्लांट होगा जो 75 हजार लीटर प्रतिदिन इथेनाल उत्पादन करेगा। उन्होंने बताया कि 10 महीने के अंदर फैक्ट्री का निर्माण पूरा कर उत्पादन शुरू कर दिया जाएगा। अगले वर्ष अक्टूबर से पहले एथेनाल फैक्ट्री बनकर तैयार होगी और इसमें उत्पादन भी शुरू किया जाएगा। भूमि पूजन के दौरान जीएम शशि केडिया, डायरेक्टर चंद्र मोहन सिंह, टेक्निकल मैनेजर ओमप्रकाश सिंह, प्रोडक्शन मैनेजर राकेश सिंह गोसाई, गन्ना उपाधीक्षक राकेश सिंह चौहान, राजीवन पिल्लई, मनीष कुमार, बीपी शाही सहित कई लोग शामिल थे।