गोपालगंज:- कटहरिया गांव में बिना दुल्हन लिए बारात वापस लौटी

0

गोपालगंज: महम्मदपुर थाना कटहरिया गांव का है ।जहां की राजदेव प्रसाद की लड़की की शादी सिधवलिया थाना सलेमपुर डेरवा गांव के खेदू कुशवाहा के पुत्र रामएकबाल कुशवाहा के साथ हुई थी ।शादी की पूर्व की तैयारी तिलक व कथा मटकोर की रेशम पूरी कर शादी निर्धारित समय के साथ द्वार पूजा की रश्म पूरी कर विवाह की रश्म पूरी की जा रही थी। इसी बीच जनवासा में खाट पर बैठने के विवाद में बराती और शरारती में मारपीट शुरू हो गई ।बताया जाता है कि गांव के एक समानित व्यक्ति बरातियों की खाट पर बैठ गया।जिससे बराती नराज होकर खाट पर बैठे व्यक्ति को मारना शुरू कर दिए जिसे देख गांव के ग्रामीण भड़क गए और बरातियों से मारपीट शुरू कर दिए।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

मारपीट बढ़ते बढ़ते इतना बड़ा रूप ले लिया की बराती सराती दो पक्ष बनकर ईट पत्थर और लाठी डंडे से मारने लगे।इसमें लड़का के चाचा,भाई ग्रामीण सहित आधे दर्जन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए । घायलों के गम्भीर अवस्था को देखते हुए बराती पक्ष के लोग लड़का को अपने साथ लेकर बिना दुल्हन लिए ही वापस रात में गांव सलेमपुर डेरवा लौट गए। जिस कारण शादी की रसम अधूरी रह गई । बराती सराती के बीच हुई झड़प में घायल वर पक्ष के चाचा विद्या कुशवाहा ,भाई अजीत कुमार और एक अन्य ग्रामीण मेघु कुशवाहा को इलाज के लिए सदर अस्पताल गोपालगंज लाया गया। जहां से विद्या कुशवाहा को गंभीर अवस्था में बेहतर इलाज के लिए गोरखपुर रेफर कर दिया गया है।