गोपालगंज: सड़क पार कर रहे मजदूर को अनियंत्रित बस ने रौंदा, स्पॉट मौत

0

गोपालगंज: सड़क पार कर रहे मजदूर को अनियंत्रित बस ने रौंद दिया। जिससे घटना स्थल पर ही मजदूर की मौत हो गयी। घटना से आक्रोशित ग्रामीणों ने सड़क को जाम कर मुआवजा की मांग कर रहे थे। घटना मांझागढ़ थाना क्षेत्र पथरा गांव समीप उच्च पथ 27की। दिल्ली से मुजफरपुर की तरफ जा रही अनियंत्रित टूरिस्ट बस ने कुचल दिया।जिससे मजदूर की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। बताया जाता हैं । कि पथरा गांव के स्वर्गीय अयूब अंसारी के 47 वर्षीय पुत्र जैनुदीन अंसारी शनिवार को अपने बथान से क़रीब 5 बजे वापस घर लौट रहे थे।इसी बीच एनएच 27 पर तेज रफ्तार से दिल्ली से मुज्जफरपुर की तरफ जा रही अनियंत्रित बस ने रौंद दिया। जिससे उनकी घटना स्थल पर ही मौत हो गई।घटना के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने उच्च पथ को जाम कर सरकारी मुआवजे की मांग व बस मालिक को घटनास्थल पर बुलाने की मांग पर अड़ गए। हालांकि घटना की सूचना मिलने पर मांझागढ़ थाना पुलिस एवम अंचलाधिकारी शाहिद अख्तर ने घटनास्थल पर पहुंच कर आक्रोशित लोगों को समझा बुझाकर शांत किया, तथा आपदा प्रबंधन के तहत मृतक के परिजनों को 4 लाख रुपए की सहायता राशि देने की आश्वासन दिए ।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

लेकिन उसके बाद भी ग्रामीण घटनास्थल पर बस मालिक को बुलाने की जिद्द पर अड़े रहे।अंचल पदाधिकारी और मांझागढ़ थाना के एस आई विनोद यादव ब्रजभूषण पाठक ने आक्रोशित लोगों को काफी समझाने बुझाने के बाद आक्रोशित लोग शांत हुये। मनजीत सिंह के द्वारा अंचला अधिकारी से मुआवजे सम्बन्धी बात होने के बाद काफी मस्कत करने पर पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया।बस चालक घटना के अंजाम देते ही बस छोड़ कर लापता हो गया। पुलिस ने बस को जब्त कर घटना की जांच करने में लगी हुई है। मृतक चार भाई भाई में दूसरे स्थान पर था मृतक के तीन बेटी और एक पुत्र है। पत्नी ममिना खातून और मुस्लिमन खातून और पुत्र पुत्री को रो रो कर हालत खराब था। घण्टो सड़क जाम रहने से वाहन की कतार करीब चार किलो मीटर तक लगा हुआ था। जिससे आवागनमन घण्टो बाधित रहा।