गोरेयाकोठी: दो दिवसीय भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी का 15वें सीवान जिला सम्मेलन की शुरुआत

0

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के गोरेयाकोठी प्रखंड के छितौली में शनिवार से दो दिवसीय भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी का 15वें सीवान जिला सम्मेलन की शुरुआत हुई. रविवार को अंतिम जिला सचिव का चयन किया जाएगा. सम्मेलन की शुरुआत में पार्टी का झंडोत्तोलन से किया गया. झंडोत्तोलन वरीय पार्टी नेता मो सलीम ने किया. उसके बाद उपस्थित नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने शहीद वेदी पर पुष्पांजलि अर्पित किया. सम्मेलन में जिले भर के प्रतिनिधि हिस्सा ले रहे है. पार्टी राज्य सचिव मंडल के सदस्य रामचंद्र महतो ने कहा कि देश में महंगाई और बेरोजगारी से आम जनता त्रस्त है. देश का किसान आज ठगा हुआ महसूस कर रहा है. तीन काले कृषि कानून को वापस लेते हुए सरकार ने यह वादा किया था कि किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य हेतू कानून बनाने पर सरकार विचार करेगी.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 7.27.12 PM
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

नया बिजली अध्यादेश लागू नहीं करेगी तथा किसानों की लंबित मांगों को पूरा किया जाएगा. परंतु केंद्र सरकार इससे मकर रही है. उन्होंने कहा कि किसान खेती छोड़ रहे है. बिहार के किसान वर्षों से बाढ़ और सूखाड़ का दंश झेल रहे है. उन्होंने जनता से अह्वावान किया कि केंद्र सरकार की वादा खिलाफी तथा जन सवालों पर संघर्ष के मैछान में उतरे और सरकार को सबक सिखाए. राज्य कार्यकारणी सदस्य सुरेंद्र सौरभ ने कहा कि बेरोजगार नौजवान आज रोजगार के लिए दर-दर भटक रहे है. आम जनता की आमदनी घट रही है. उन्होंने केंद्र से मोदी सरकार को उखाड़ फेंकने का आह्वान करते हुए जन संघर्ष तेज कर भाकपा को मजबूत करने का अपील की.

जिला सचिव तारकेश्वर यादव ने कहा कि राज्य में रोज-रोज विधि व्यवस्था बिगड़ती जा रही है. सरेआम हत्याएं हो रही है. भोली भाली महिलाएं बलात्कार का शिकार हो रही है. बच्चियों का शोषण हो रहा है. महंगाई बेरोजगारी भूखमरी से आम लोग तबाह हो रहे हैं. हमारी पार्टी इन सभी मुद्दों पर लगातार धरना प्रदर्शन करती रही है मगर शासक वर्ग का नींद ही नहीं टूट रही है. आज जरूरत है सभी धर्मनिरपेक्ष ताकत एकजुट होकर मानवीय सांप्रदायिक ताकतों का मुकाबला करें. मौके पर जिला सचिव तारकेश्वर यादव, राजेंद्र सिंह, भरत प्रसाद, सिफतुल्लाह उर्फ गोरख नेता, शमीम अख्तर, बागेश्वर सिंह, सुरेंद्र तिवारी, इरफान अहमद, मो. सलीम, फूल मोहम्मद, श्रीभगवान चौबे मौजूद रहे.