गोरेयाकोठी: तेज गति की अनियंत्रित ट्रैक्टर घर में घुसी, मासूम की मौत

0

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के गोरेयाकोठी प्रखंड व जामो बाजार थाना क्षेत्र के हरिहरपुर कला गांव में भी गुरुवार को रफ्तार का कहर देखने को मिला. यहां एक तेज गति की ईंट लदी अनियंत्रित ट्रैक्टर घर में ही घुस गई. जिससे एक मासूम की जहां मौत हो गई. वहीं दो छोटी बच्चियां भी घायल हो गईं. जानकारी के अनुसार बरहोगा के एक चिमनी से ट्रैक्टर ईंट लादकर हरिहरपुर कला बाजार की तरफ जा रहा था. प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार वाहन की गति तेज होने व एक बच्चे के दौड़कर आने के क्रम में ट्रैक्टर चालक ने अचानक ब्रेक लगा दिया. वाहन की गति तेज होने से ट्रैक्टर का अगला भाग मुड़कर गांव के श्रीकिशुन साह के घर के दीवाल को तोड़ता हुआ अंदर जा घुसा. इससे श्रीकिशुन साह के छोटे बेटे अजीत कुमार(3वर्ष) की ट्रैक्टर के चपेट में आने से घटनास्थल पर ही मौत हो गई. जबकि ट्रैक्टर के ही चपेट में आने से वहां मौजूद बगल के राजू राम की दो बेटियां छोटी कुमारी(2वर्ष) व अंशु कुमारी(5वर्ष) गंभीर रूप से घायल हो गईं. दोनों को इलाज के लिए सदर अस्पताल भेजा गया.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-14 at 9.16.03 PM
WhatsApp Image 2022-08-14 at 9.24.37 PM
WhatsApp Image 2022-08-14 at 9.13.39 PM
WhatsApp Image 2022-08-14 at 9.18.57 PM

घटना के बाद वहां अफरातफरी की स्थिति हो गई. बच्चे की मौत से आक्रोशित लोगों ने ट्रैक्टर चालक को पकड़ उसकी जमकर धुनाई शुरू कर दी. हालांकि बाद में कुछ बुद्धिजीवियों के प्रयास से चालक को लोगों के कब्जे से छुड़ा एक कमरे में बंद कर दिया गया. सूचना मिलते ही जामो बाजार थानाध्यक्ष ध्रुव प्रसाद सिंह दलबल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे. पुलिस को लोगों के आक्रोश का भी सामना करना पड़ा. लोगों का कहना था कि क्षेत्र में वाहन के चालक गांव में भी वाहन के गति पर अंकुश नहीं रखते. इससे कई बार दुर्घटनाएं भी होती हैं. उस समय तो प्रशासन लोगों को कई आश्वासन देता है. लेकिन कुछ ही दिनों बाद सबकुछ सामान्य हो जाता है. पुलिस ने स्थानीय जनप्रतिनिधियों व सामाजिक कार्यकर्ताओं की मदद से आक्रोशित लोगों को शांत कराया. बाद में शव को जहां पोस्टमॉर्टम में सदर अस्पताल भेजा. वहीं चालक को भी ग्रामीणों के कब्जे से मुक्त करा उसे हिरासत में ले लिया. थानाध्यक्ष ने बताया कि ट्रैक्टर को कब्जे में लेकर वहां चौकीदार की तैनाती कर दी गई है.