ग्रामीण जागृति कार्यक्रम, आयोजित

0

परवेज अख्तर, जीरादेई:- जीरादेई प्रखंड क्षेत्र के विजयीपुर में तिरहुत दूध उत्पादक सहकारी संघ लिमिटेड मुजफ्फरपुर द्वारा माल्यार्पण करके ग्रामीण जागृति कार्यक्रम को किया गया। इस कार्यक्रम में मिश्रौली समिति के अध्यक्ष सह सभापति रमेश यादव के अध्यक्षता में किया गया। इस कार्यक्रम ग्रामीणों को जागरूक किया गया जिसमे पशुपालको को दुग्ध उत्पादन से सम्बंधित जानकारी दी गयी । दुग्ध शीतक केन्द्र प्रभारी श्री घनश्याम ठाकुर ने बताया की दूध उत्पादन व्यवसाय या डेयरी फार्मिंग छोटे व बड़े स्तर दोनों पर सबसे ज्यादा विस्तार में फैला हुआ व्यवसाय है। दूध उत्पादन व्यवसाय व्यवसायिक या छोटे स्तर परज़ दूध उत्पादन किसानों की कुल दूध उत्पादन में मदद करता है और उसकी आर्थिक वृद्धि को बढ़ाता है। इसमें कोई संदेह नहीं है कि, भारत में कई वर्षों से डेयरी व्यवसाय या दूध उत्पादन ने आर्थिक वृद्धि में सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। मिश्रौली समिति के सभापति रमेश यादव ने बताया कि दूध उत्पादन ने हमारे देश की अर्थव्यवस्था में बड़े स्तर पर भागीदारी की है और बहुत से गरीब किसानों को अपना व्यवसाय स्थापित करने में सहयोग किया है।

यदि किसी के ज़पास दूध उत्पादन का व्यवसाय स्थापित करने के लिए प्रारंभिक पूँजी है तो, इस (दूध उत्पादन) व्यवसाय को किसी भी क्षेत्रों में आसानी से स्थापित किया जा सकता है। मौके पर उपस्थित:- मिश्रौली समिति के सभापति रमेश यादव, दुग्ध शीतक केंद्र प्रभारी श्री घनश्याम ठाकुर, बड़हुलिया समिति के सचिव वसुंधरा राज, बी.एम. सी समिति के सचिव सुभाष यादव, पथ संख्या 38 के पथ प्रभारी रविन्द्र ठाकुर, पथ संख्या 39 के पथ प्रभारी मोहन प्रसाद यादव, ठेपहा समिति के सचिव धनंजय कुमार यादव, अध्यक्ष कृष्णमोहन यादव, दुग्ध शीतक केंद्र गोपालगंज पर्यवेक्षक केदार कुमार, शशिभूषण झा, संजय कुमार, कौशल यादव, उपेंद्र यादव, शिव कुमार, शिवचंद्र यादव, कन्हैया कुमार कुशवाहा के साथ ही साथ हजारों की संख्या में लोग उपस्थित थे।