गुठनी: निजी अस्पताल में मौत के बाद परिजनों ने किया हंगामा

0
mang
  • परिजनों का कहना था कि उसे सीने में तेज दर्द की शिकायत के बाद गांव के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया
  • सूई लगने के बाद अधेड़ की बिगड़ी थी हालत
  • जनप्रतिनिधियों ने पीड़ित को दिया आश्वासन
  • 55 वर्ष के अधेड़ की मौत के बाद आक्रोशित हुए परिजन

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के गुठनी थाना क्षेत्र के चिताखाल गांव में रविवार की इलाज के दौरान अधेड़ की मौत हो गई। उसकी पहचान चिताखाल गांव निवासी सुदामा मल्लाह (55 वर्ष) के रूप में हुई है। परिजनों का कहना था कि उसे सीने में तेज दर्द की शिकायत के बाद गांव के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। परिजनों ने बताया कि वहां मौजूद डॉक्टर ने उसे दर्द की सूई लगा दी। जिसके बाद उसकी हालत और बिगड़ने लगी। आनन-फानन में परिजन उसे गुठनी पीएचसी लेकर पहुंचे। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। उसकी मौत के बाद परिजन निजी डॉक्टर के खिलाफ हंगामा करने लगे। जिसकी सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंचे सामाजिक कार्यकर्ताओं व जनप्रतिनिधियों ने परिजनों को समझाकर मामला शांत कराया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। पुलिस का कहना था कि परिजनों द्वारा लिखित शिकायत के बाद मामला दर्ज कर लिया गया है। पुलिस घटना की गंभीरता से जांच कर रही है। वहीं मौत के बाद पूरे परिवार में हाहाकार मच गया। उसकी पत्नी जानकी देवी उसे याद करके बार-बार बेहोश हो जा रही थी। जिसको संभालने के लिए आसपास के लोग लगे हुए थे। ग्रामीणों ने बताया कि वह परिवार का इकलौता कमाऊ सदस्य था। उसके परिवार में पुत्र अमर सहनी, अमित सहनी, वरुण सहनी और काजल कुमारी शामिल है। सूचना मिलने के बाद घटना स्थल पर पहुंचे प्रभारी थानाध्यक्ष दशरथ सिंह, प्रशिक्षु दरोगा श्रवण कुमार पाल, एएसआई मोहन पासवान ने जांच की। मुखिया नवमी लाल पासवान, विनीत नाथ तिवारी, जयराम चौधरी, मुन्ना अंसारी, हरेराम साह समेत ग्रामीणों ने परिजनों को मदद का आश्वासन दिया है।