गुठनी: छात्रा के घायल होने से विवाद को लेकर ग्रामीणों और शिक्षकों में झड़प

0

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के गुठनी थाना क्षेत्र के मटिकोड़वा स्थित राजकीय कन्या मध्य विद्यालय में शनिवार की सुबह ग्रामीणों और शिक्षकों में झड़प हो गई। हालांकि सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों पक्षों को समझा कर मामले को शांत करा दिया। मिली जानकारी के अनुसार शुक्रवार की सुबह जितेंद्र पटेल की पुत्री मानसी कुमारी (5 वर्ष)पढ़ने के लिए स्कूल गई थी। परिजनों का आरोप है कि क्लास रूम में बच्चों के साथ खेलते हुए उसका हाथ टूट गया। जिसके बाद शिक्षकों द्वारा उसके साथ अमानवीय व्यवहार करके उसे घर भेज दिया गया। जबकि इस घटना की सूचना शिक्षकों व प्रधानाचार्य ने परिजनों को देना मुनासिब नहीं समझा। जब परिजन व ग्रामीण इस घटना की पूछताछ के लिए शनिवार को स्कूल परिसर पहुंचे तो शिक्षकों से उनकी झड़प हो गई। वही इस संबंध में शिक्षकों का कहना है कि परिजनों व ग्रामीणों द्वारा महिला शिक्षिका के साथ दुर्व्यवहार किया गया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

उनका मोबाइल छीनने की भी कोशिश की गई। इससे नाराज शिक्षकों ने थानाध्यक्ष राजेश कुमार सिंह को दोषियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई करने के लिए आवेदन सौंपा। साफ कहा कि जब तक आरोपितों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई नहीं होती तब तक कोई भी काम नहीं किया जाएगा। शिक्षकों में शैलेंद्र कुमार शर्मा, सुनीता सिंह, शकुंतला पाल, इशरत जहां, जयप्रकाश, विदुषी शुक्ला, रूबी पांडेय, मुकेश कुमार, रामकुमार थे। इस संबंध में पुलिस का कहना है कि मामले की छानबीन की जा रही है। पुलिस को इसकी लिखित सूचना अभी तक किसी पक्ष ने नहीं दी है। वही परिजनों ने शिक्षकों द्वारा लापरवाही बरतने, समय से ड्यूटी न करने, समय से स्कूल न आने का आरोप लगाया। कहा कि लापरवाही के बावजूद भी उन पर विभाग द्वारा कोई ठोस कार्रवाई नहीं की जाती है। नाराज ग्रामीणों का आरोप था कि इस मामले में आरोपित शिक्षकों पर त्वरित कार्रवाई होनी चाहिए। इससे आने वाले समय में किसी भी छात्र के साथ इस तरह की दुर्घटना घटित न हो।

क्या कहते है बीईओ

बीईओ तारकेश्वर गुप्ता का कहना है कि शिक्षकों के साथ ग्रामीणों से झड़प की सूचना मिली है। इस मामले में गंभीरता से जांच की जा रही है। दोषी पाए जाने पर आरोपितों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।