गुठनी: तीरबलुआ गांव में दर्जनों घरों पर कटाव का खतरा

0
  • मुख्यमंत्री के जनता दरबार में ग्रामीणों ने लगाई थी गुहार
  • कटाव व भूस्खलन की पर सीओ ने पहुंचकर की जांच

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के गुठनी प्रखंड के तीरबलुआ गांव पर लगातार हुई मूसलाधार बारिश से बाढ़ का खतरा अभी भी बरकरार है। इस दौरान दर्जनों घरों पर कटाव का खतरा बरकरार हो गया है। ग्रामीणों की माने तो लगातार तेज बारिश से कटाव और जल स्तर बढ़ने से गांव का नामोनिशान मिटने की कगार पर है। इससे परेशान गांव के युवाओं ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के जनता दरबार में गांव को बचाने की गुहार लगाई थी। ग्रामीणों ने रविवार की सुबह मुखिया श्रीनिवास गुप्ता को फोन करके कटाव और भूस्खलन की जानकारी दी।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

इसके बाद मुखिया ने सीओ, बीडीओ, सीआई, राजस्व कमर्चारी, बीएओ और आला अधिकारियों को सूचना दी। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे सीओ शम्भूनाथ राम, सीआई कृष्णा कुमार गुप्ता, राजस्व कमर्चारी गिरीश तिवारी, बीएओ दीनानाथ राम ने कटाव स्थल का बारीकी से निरीक्षण किया। इस दौरान ग्रामीणों ने उन्हें बताया कि दो दिनों से हुए नए जगहों के कटाव से एक दर्जन घरों पर खतरा बढ़ गया है। वह कभी भी जमींदोज हो सकते हैं। डीएम अमित कुमार पांडेय का कहना है कि तीरबलुआ गांव की वास्तविक रिपोर्ट मुख्यमंत्री कार्यालय और आपदा प्रबंधन विभाग को भेज दी गई है। इस संदर्भ में मिलने वाले निर्देशों पर जिला प्रशासन त्वरित कार्रवाई करेगा।