हाजीपुर: बाढ़ पीड़ितों के लिए सात जगहों पर सामुदायिक किचन शुरू

0

हाजीपुर: स्थानीय प्रशासन के द्वारा बाढ़ पीड़ितों के लिए महनार में कुल सात जगहों पर सामुदायिक किचेन की शुरुआत की गई है। सामुदायिक रसोई के माध्यम से बाढ़ पीड़ित सैकड़ों परिवारों को प्रतिदिन दो समय का भोजन प्रशासन की ओर से उपलब्ध कराए जा रहे हैं। एसडीओ ने सामुदायिक किचेन के संचालन की जिम्मेवारी महनार के सीओ को सौंपी है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 7.27.12 PM
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

महनार के सीओ रमेश प्रसाद सिंह ने बताया कि महनार के बाढ़ पीड़ित परिवारों के लिए मध्य विद्यालय कैलाबाद,हसनपुर उत्तरी पंचायत में उच्च विद्यालय हसनपुर,दक्षिणी पंचायत के लिए उत्क्रमित मध्य विद्यालय नया टोला हसनपुर,अलीपुर हट्टा पंचायत के लिए मध्य विद्यालय मजलिशपुर,फतेहपुर कमाली के लिए मध्य विद्यालय देशराजपुर,बहलोलपुर के लिए मध्य विद्यालय बहलोलपुर में सामुदायिक किचेन की शुरुआत की गई है।

उन्होंने बताया कि महनार प्रखंड की हसनपुर दक्षिणी पंचायत में बाढ़ की विभीषिका को देखते हुए उक्त पंचायत को बाढ़ ग्रस्त क्षेत्र घोषित किया गया है। सीओ ने बताया कि हसनपुर दक्षिणी पंचायत में लगभग 16 सौ परिवार बाढ़ प्रभावित हैं। अलीपुर हट्टा पंचायत में लगभग 500 एवं फतेहपुर कमाली में 200 परिवार बाढ़ प्रभावित हैं। बालक उच्च विद्यालय महनार में दियारा क्षेत्र से आए पशुपालकों के लिए पशु चारे की व्यवस्था भी अलग से की जा रही है।

इस बीच गंगा नदी का पानी धीरे-धीरे नीचे उतरने से बाढ़ स्थिति में थोड़ा सुधार हुआ है। दूसरी ओर,वाया नदी के जलस्तर में लगातार हो रही वृद्धि और इस कारण नहर के ओवरफ्लो होने के कारण महनार प्रखंड के ग्रामीण क्षेत्रों में बाढ़ की स्थिति धीरे-धीरे स्थिति गंभीर होती जा रही है।