हाजीपुर: भाकपा (माले), खेग्रामस एवं  किसान महासभा ने जिले भर में मनाया काला दिवस

0

किसान- मजदूरों की शहादत पर 2 मिनट की दी मौन श्रद्धांजलि

रंजेश कुमार झा/हाजीपुर: राष्ट्रव्यापी आवाहन के आलोक में भाकपा (माले) अखिल भारतीय खेत व ग्रामीण मजदूर सभा एवं अखिल भारतीय किसान महासभा ने जिले भर में काला दिवस मनाया। किसान आंदोलन के  6 माह पूरा होने पर अब तक 450 किसान- मजदूरों की शहादत पर 2 मिनट की मौन श्रद्धांजलि दी गई।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

हाजीपुर के रामचौरा पार्टी कार्यालय के प्रांगण में प्रोटोकॉल का पालन करते हुए खेग्रामस के राष्ट्रीय पार्षद दीनबंधु प्रसाद, जिला सचिव रामबाबू भगत, महेश पासवान, एक्वा के महा पति देवी, छात्र नेता मणि राज, शिवांशु कुमार, देवानशु सहाय, दीपक कुमार आदि भगवानपुर प्रखंड के रोहुआ में खेग्रामस  के उपाध्यक्ष दसई महतो, वीरेंद्र सिंह,सुभाष पासवान, विफिया देवी, विनीता देवी ,सराय में ऐपवा के जिला सचिव शीला देवी, नजमा खातून,उर्मिला देवी, रंगीला देवी, मीना देवी, पूनम देवी, गुंजा देवी आदि करहरी में मनरेगा मजदूर सभा के पवन कुमार सिंह, मुनेश्वर राम, शोभित राम, अखिलेश्वर राम, सिता देवी, सह्देई प्रखंड के सारा धनेश, माले जिला कमेटी सदस्य मोहम्मद खलील आजाद, मोहम्मद जुम राती, शकीला खातून, जंदाहा प्रखंड के खोपी बिशनपुर में खेग्रामस  के प्रखंड सचिव रामबाबू पासवान, युवा नेता जीशान अहमद, पवन कुमार, मिथिलेश कुमार, छोटू कुमार, पानापुर सिलौथर में रामविलास दास, डॉक्टर योगेंद्र राम,जवाहर ठाकुर, द्वारीक पासवान,सुनील कुमार साह, पवन पासवान, लालगंज प्रखंड के सिरसा में डॉक्टर सीता राम भक्त, चेहरा कला में युवा नेता राजू साह आदि के नेतृत्व में दर्जनों जगह धरना सभा व पुतला दहन किया गया।

सभी के हाथों में काला झंडा व तीनों काला कृषि कानून वापस लेने ,एम॰एस॰पी॰ की गारंटी वाला कानून बनाने, प्रस्तावित 2020 बिजली बिल को वापस लेने, मजदूर विरोधी चारों श्रमिक कोड वापस लेने, महंगाई पर रोक लगाने, हर हाथ को काम देने, पंचायत स्तर पर कोरोना का ईलाज करने व बेड व वेंटिलेटर  का व्यवस्था करने संबंधित तख्तियां लिए हुए थे।उक्त अवसर पर नेताओं ने मोदी सरकार पर आरोप लगाया कि विगत लॉकडाउन और करोना काल में काले कानून पास करती गई और इस बार भीषण महंगाई बढ़ाने में लगी है।इसके खिलाफ आमजन को जंग जारी रखना होगा।