​राजा हत्याकांड में डेढ़ माह बाद भी पुलिस को खाली हाथ

1
raja htya kand

परवेज अख्तर/सिवान :- मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के विदुरती हाता गांव निवासी यद्दू शर्मा के पुत्र राजा शर्मा की हत्या मामले में डेढ़ माह बाद भी पुलिस को कोई सफलता हाथ नहीं लगी है। उक्त घटना की प्राथमिक राजा शर्मा के बड़े भाई धर्मेंद्र शर्मा के लिखित आवेदन पर मुफ्फसिल थाना कांड संख्या 253/18 धारा 302/ 34 दिनांक 6 मई 2018 को दर्ज कराई गई थी, जिसमें टड़वा गांव निवासी बबलू नट, गुड्डू नट, जावेद उर्फ डिस्को, जितेंद्र यादव, मंगल यादव तथा एक अन्य अज्ञात को आरोपित किया गया था। हत्याकांड के सूचक एवं मृतक के बड़े भाई धर्मेंद्र शर्मा ने बताया कि उक्त
घटना के आरोपित खुलेआम घूम रहे हैं, लेकिन स्थानीय पुलिस द्वारा आरोपित की गिरफ्तारी के लिए कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। यहां तक कि दर्ज कांड के आरोपित टड़वा निवासी जावेद उर्फ डिस्को आए दिन मृतक के भाई मुकदमा में सुलहनामा लगाने को लेकर तरह-तरह की धमकी दे रहा है। उधर धमकी मिलने पर परिजनों में भय एवं दहशत का माहौल है। दर्ज प्राथमिकी में यह उल्लेख किया गया है कि मेरा छोटा भाई राजा शर्मा विगत 6 मई,18 की संध्या घर के सदस्यों से गांव में बबलू नट के घर टीवी बनाने की बात कह निकला। मैंने जब पूछा कि कहां जा रहा है तो मेरा भाई ने कहा कि बबलू नट मुझे बुलाने आए हैं तो मैंने उन्हें जाने दिया। तब तक 30 से 40 मिनट के अंदर मेरे परिवार को ग्रामीणों द्वारा सूचना मिली कि आपके भाई की हत्या कर उसके शव को प्रतीक हीरो एजेंसी के उत्तर सड़क के किनारे फेंक दिया गया है। सूचना पाकर हम सभी लोग आनन-फानन में घटनास्थल पर पहुंचे तो पाया कि वह शव मेरे भाई का ही है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

हाई प्रोफाइल के तरीके से की गई थी घटना को अंजाम

राजा शर्मा की हत्या आरोपितों ने हाईप्रोफाइल तरीके से की थी। अपराधियों ने उसकी हत्या कर साक्ष्य मिटाने तथा हत्याकांड को दुर्घटना में बदलने के लिए उसकी बाइक को बिल्कुल क्षतिग्रस्त कर दिया था। इस घटना का खुलासा कब हुआ जब मौजूद ग्रामीण एवं प्रत्यक्षदर्शियों ने उन्हें देखा कि बाइक का हैंडल लॉक था। लॉक बाइक में दुर्घटना कैसे हो सकती है?raja

डेढ़ माह बाद भी हादसे से नहीं उभर पा रहे हैं राजा का परिवार

घटना के डेढ़ माह बाद भी सदमें से नहीं उतर पा रहे हैं मृतक राजा शर्मा के परिजन। वहीं हत्याकांड में न्याय के लिए वृद्ध पिता यद्दू शर्मा एवं बड़ा भाई धर्मेंद्र शर्मा दर-दर की ठोकरें खाने को मजबूर हैं। इसके बाद भी स्थानीय पुलिस के आश्वासन छोड़ कर कुछ भी सफलता हाथ नहीं लग रही है। आज भी अपने खोये बेटे राजा की गम में पिता यद्दू शर्मा एवं माता राजकुमारी देवी बिलख रही हैं।

raja parivar

तीन बार मिल चुके हैं एसपी से पीड़ित परिवार

राजा शर्मा हत्याकांड को लेकर यद्दू शर्मा परिवार के साथ एसपी नवीन चंद्र झा से मिलकर न्याय एवं आरोपितों की गिरफ्तारी की गुहार लगा चुकें है। वहां से भी परिजनों को सिर्फ आश्वासन ही हाथ लगी है।

हत्याकांड में फरारी के बाद अन्य दो घटना का अंजाम दिया डिस्को ने

राजा शर्मा हत्याकांड का नामजद आरोपित जावेद उर्फ डिस्को ने अपने फरारी के दौरान दो अलग-अलग जगहों पर घटना को अंजाम दिया है। महादेवा ओपी क्षेत्र के बरइया टोला स्थित अली मस्जिद के बगल में दिनदहाड़े घर में घुस महिला को बंधक बनाकर मारपीट सोने का चेन लूट लिया था। इस घटना में सास-पतोह घायल हो गई थी। इस घटना की प्राथमिकी महादेवा ओपी में घायल सास असगरी खातून के बयान पर दर्ज कराई गई थी। पीड़ित महिला अली मस्जिद के बगल में मोहम्मद मुजीबुल खान के मकान में किराए पर रहती है जो सिसवन थाना क्षेत्र के ग्यासपुर गांव निवासी फजलू रहमान की पत्नी तथा कांड के सूचक है। दूसरी घटना मुफस्सिल थाने के टड़वा गांव में विगत 27 जून को पारंपरिक हथियारों से लैस होकर जमकर तांडव मचाया, जिसमें लगभग आधा दर्जन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। घायल मुमताज खान को सदर अस्पताल से रेफर कर दिया गया जो पीएमसीएच में जीवन और मौत से जूझ रहा है। उसकी हालत चिंताजनक बनी हुई है।

कहते हैं थानाध्यक्ष

इस मामले में की जांच की जा रही है तथा इस कांड में संलिप्त आरोपितों
की गिरफ्तारी वरीय पदाधिकारी के निर्देश के आलोक में की जाएगी। अनुसंधान चल रहा है।
अभिजीत कुमार, थानाध्यक्ष मुफ्फसिल

 

1 COMMENT

Comments are closed.