हसनपुरा: मृत प्रतुल हत्या मामले में आया नया मोड़, पत्नी ने हत्या का लगाया आरोप

0

पत्नी ने ससुर, जेठ, देवर व जेठानी सहित चार के खिलाफ दिया आवेदन

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के एमएच नगर थाना क्षेत्र के महुअल महाल निवासी अवध बिहारी सिंह के पुत्र प्रतुल  कुमार सिंह के मौत मामले में नया मोड़ सामने आया है. इस मामले मृतक की पत्नी व छपरा जिले के कोपा थाने के रामनगर निवासी मुरारी सिंह के पुत्री सोनी कुमारी ने स्थानीय थाने एमएच नगर में बुधवार को आवेदन देकर ससुर अवध बिहारी सिंह, जेठ संजीव उर्फ पप्पू कुमार सिंह, देवर अवशेष उर्फ छोटु कुमार सिंह व जेठानी सुमन देवी को नामजद किया है. पीड़िता ने कहा है कि मेरी शादी 11 फरवरी 2017 को हिन्दू रीति-रिवाज के अनुसार  सम्पन्न हुई थी. इसी बीच 5 अप्रैल 2022 को मेरे पति पचरुखी ब्लॉक से ड्यूटी कर घर वापस 7 बजे शाम को लौटे.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

तभी उक्त सभी नामजदों ने घर के हॉल में बुलाकर विवाद करने लगे. उसी समय हो-हल्ला को सुन मैं नीचे दौड़कर आई तो देखा कि सभी मेरे पति के साथ सभी लाठी, डंडे से मारपीट कर रहे थे. मैं विरोध किया तो बोले कि तुम अपनी कमरे में जाओ नहीं तो बच्चे को भी मार देंगे. फिर मुझे कमरे के अंदर करके बाहर से ताला लगा दिए. इस दौरान 12 बजे रात को किसी ने मेरा दरवाजा खोला. मैं दौड़कर नीचे गई, जहां मेरे पति के साथ मारपीट की जा रही थी. लेकिन उस वक्त कमरे में ताला बंद था. मैं किसी तरह उस ताले को तोड़कर दरवाजा खोली तो उसमें कोई नही था. सुबह होते ही मैं इन चारों से पूछे तो यह लोग बोले कि कहीं गया है.

तुम चुपचाप अंदर रहो. इतना ही नहीं मेरा मोबाइल यह लोग मुझसे छीन लिए. फिर 5 अप्रैल को सभी ने मेरे पति की हत्या कर कुएं में डाल दिए. ताकि साक्ष्य छिप जाए. ये सभी लोग उक्त दिनांक को एक सादे कागज पर मुझसे जबरन हस्ताक्षर करवा लिया. जो कि मुझे मालूम नहीं था कि किस लिए हस्ताक्षर करवाए है. गौरतलब हो कि मृत प्रतुल कुमार सिंह जो पचरुखी प्रखंड में डाटा ऑपरेटर के पद पर कार्ररत थे. जिनका शव गांव स्थित झांड़ीनुमा कुआं से पुलिस ने बरामद किया था.थानाध्यक्ष अजीत कुमार सिंह ने कहा कि आवेदन आया है पुलिस मामले की जांच पड़ताल कर रही है.