हसनपुरा: अरंडा दलित टोले में जलजमाव से लोग परेशान

0
  • पदाधिकारी व जनप्रतिनिधि ने नहीं ले रहे संज्ञान
  • स्थानीय निवासी नारकीय जीवन जीने को मजबूर

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के हसनपुरा प्रखंड के अरंडा नगर पंचायत की दलित बस्ती में बराबर जलजमाव की समस्या को लेकर सैकड़ों परिवार नारकीय जीवन व्यतीत करने को मजबूर हैं। जलजमाव की समस्या हर वर्ष बरसात से शुरू होकर ठंड के आखिरी समय तक बनी रहती है। इस दौरान लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। लोग अपने घर से निकलने के लिए गंदे पानी से होकर गुजरते हैं। वहीं इस जलजमाव से कई तरह की महामारियों की आशंका जाहिर कर लोग परेशान भी रहते हैं। इस समस्या को ले बीजेपी के हसनपुरा पश्चिमी मंडल अध्यक्ष लक्ष्मीकांत पाठक ने डीएम से लेकर उपमुख्यमंत्री तक आवेदन दिया था। वहीं आवेदन के बावजूद भी अभी तक कोई संज्ञान नहीं लिया गया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

उन्होंने यह भी बताया कि इसके पहले बीडीओ, सीओ व एसडीओ को भी आवेदन दिया जा चुका है। लेकिन इस समस्या का कोई निराकरण नहीं होने से लोग मायूस हैं। बता दें कि यह अरंडा पंचायत के वार्ड 9 में आता है। अब नगर पंचायत बन जाने के बाद लोगों ने इस समस्या के प्रति विश्वास जगा था कि इसका हल निकाला जाएगा। मगर सैकड़ों परिवार नारकीय जीवन जीने को मजबूर हैं। वहीं राहुल कुमार पंडित, मो. इसरार, सुहाना खातून, चंद्रमा साह, बसंती देवी, कलावती देवी, गंगा बांसफोर, बलिस्टर कुमार, कमल साह, सुरेश साह, जितेंद्र मांझी, विद्याभूषण साह, हीरा मिस्त्री, विजय प्रसाद, राकेश कुमार, संजीत कुमार राम, विकास मांझी सहित सैकड़ो लोगों का परिवार शामिल है।