हसनपुरा: एसपी श्री शैलेश कुमार सिन्हा द्वारा गठित एसआईटी टीम ने पिस्टल व 24 जिंदा गोली के साथ कुख्यात अपराधी को किया गिरफ्तार,भेजा गया जेल

0

एसआईटी व स्थानीय थाने की पुलिस ने किया परमेंद्र को गिरफ्तार

परवेज अख्तर/सिवान: जिले की पुलिस को एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। एसआईटी व स्थानीय पुलिस के संयुक्त छापेमारी में परमेंद्र सिंह को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस को जांच के दौरान उसके पास से एक पिस्टल व 24 कारतूस मिला है। गिरफ्तार परमेंद्र की गिरफ्तारी के बाद पुलिस उसे थाने लायी और उसके खिलाफ आर्म्स एक्ट का एफआईआर कर सोमवार को उसे जेल भेज दिया गया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

मिली जानकारी के अनुसार पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि परमेंद्र सिंह अपने पास हथियार और बड़ी मात्रा में कारतूस रखा है। अंदेशा था कि किसी बड़ी घटना को अंजाम दे सकता है। सूचना मिलने के बाद एसआईटी की टीम व स्थानीय पुलिस ने छापेमारी की। इधर एमएच नगर थाना के भिखपुर-भगवानपुर स्थित अपने घर पर ही परमेंद्र गिरफ्तार किया गया। घर में तलाशी लेने के बाद पिस्टल व कारतूस बरामद किया जा सका। बताया जाता है कि परमेंद्र सिंह कई कांडों में जेल भी जा चुका है और जमानत पर इन दिनों बाहर था। एक बार फिर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि परमेंद्र सिंह का आपराधिक इतिहास है और उसके खिलाफ विभिन्न थानों में पहले से ही कई एफआईआर दर्ज हैं।

अपने दादा और चचेरे भाई की हत्या कर सुर्खियों में आया था

थानाध्यक्ष अभिषेक कुमार ने बताया कि परमेंद्र सिंह तब आसपास के इलाके में सुर्खियों में आया जब उसने एक-एक कर अपने दादा लालबाबू सिंह और चचेरे भाई अभिमन्यु सिंह की हत्या कर दी। इसके बाद क्या था, थानों में एक के बाद एक कई कांड उसके खिलाफ दर्ज किए गए। दर्ज कांडों में हत्या, आर्म्स एक्ट व रंगदारी जैसे मामले शामिल हैं। परमेंद्रर सिंह द्वारा सिसवन प्रखंड के बीईओ गुलाम सरवर के चेंबर में हथियार के बल पर रंगदारी की मांग करने का मामला भी सामने आया था। की गयी थी।