स्वास्थ्य मेला: आजादी के अमृत महोत्सव के तहत प्रखंड स्तर पर लगेगा हेल्थ मेला

0
  • 18 से 22 अप्रैल के बीच जिले के सभी प्रखंडों में स्वास्थ्य मेला
  • प्रखंडस्तरीय प्लानिंग कमेटी गठित होगी
  • स्वास्थ्य संबंधी मामलों पर लोगों को सजग बनाना मेला का मुख्य उद्देश्य

छपरा: स्वास्थ्य व परिवार कल्याण के उद्देश्य से सरकार द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं के प्रति आम लोगों को जागरूक करने के उद्देश्य से आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर 18 से 22 अप्रैल के बीच जिले के सभी प्रखंडों में स्वास्थ्य मेला का आयोजन किया जायेगा।इसको लेकर राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक संजय कुमार सिंह ने पत्र जारी कर सिविल सर्जन को आवश्यक दिशा-निर्देश दिया है। मेले के सफल आयोजन को लेकर विभागीय स्तर पर तैयारी जोर शोर से चल रही है। विभिन्न तरह के संचारी व गैर संचारी रोगों के प्रति लोगों को जागरूक करना तथा स्वास्थ्य संबंधी मामलों पर लोगों को सजग बनाना मेला का मुख्य उद्देश्य है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM
WhatsApp Image 2022-09-27 at 9.29.39 PM

मरीजों को डिजिटल हेल्थ आईडी उपलब्ध करायी जाएगी। इसके आधार पर वे देश में कहीं भी अपना उपचार आसानी से करा सकेंगे। मेला में डायबिटीज, ब्लडप्रेशर, ओरल कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों की स्क्रीनिंग कर मरीजों को जरूरी चिकित्सकीय परामर्श उपलब्ध करायी जायेगी। टेली कंस्लटेशन के जरिये विशेषज्ञ चिकित्सकों से इलाज की सुविधा, बेहतर स्वास्थ्य के लिये योगा, मेडिटेशन से संबंधित जानकारी देते हुए लोगों को इसे नियमित रूप से अपने जीवन में शामिल करने के लिये प्रेरित किया जायेगा।

मेले में उपलब्ध होगी कई स्वास्थ्य संबंधी सेवाएं:

सिविल सर्जन डॉ. सागर दुलाल सिन्हा ने बताया कि मेला में विभागीय स्तर से कई तरह की स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध कराए जाने की व्यवस्था होगी। मेला में जेनरल दवाएं, मातृत्व व शिशु स्वास्थ्य, टीकाकरण, परिवार नियोजन परामर्श सेवाएं, ईएनटी चेकअप, दंत चिकित्सा, टीबी, कुष्ठ, मलेरिया की जांच व उपचार सहित अन्य स्वास्थ्य संबंधी सेवाएं मेला के दौरान मरीजों को उपलब्ध करायी जायेगी। मेला में कई अन्य काउंटर लगे होंगे। इसमें मरीजों के पंजीकरण केंद्र, डायबिटीज, ब्लड़ प्रेशर, ओरल कैंसर, स्वास्थ्य संबंधी जानकारी व सुझाव, योगा व मेडिटेशन सहित अन्य स्वास्थ्य संबंधी विषयों सेवाओं को लेकर मेला में अलग अलग काउंटर बनाये जायेंगे।

प्रखंड स्तरीय प्लानिग कमेटी गठित होगी:

प्रखंड स्तर पर मेला की सफलता को लेकर जरूरी रणनीति तैयार की जा रही है। संबंधित क्षेत्र के सामाजिक पृष्टभूमि, रोग के प्रसार को ध्यान में रखकर मेला का आयोजन किया जायेगा। इसके लिये 8 से 10 सदस्यीय प्रखंड स्तरीय प्लानिग कमेटी गठित की जा रही है। इसमें स्वास्थ्य, शिक्षा, बाल विकास, सामाज कल्याण विभाग के अधिकारियों के साथ स्थानीय जनप्रतनिधियों को शामिल किया जाना है। विभिन्न सरकारी विभाग के प्रखंडस्तरीय अधिकारी, जनप्रतिनिधि को शामिल किया जाना है। संबंधित प्रखंड अध्यक्ष इस कमेटी के अध्यक्ष होंगे। वहीं बीडीओ इसके सह अध्यक्ष होंगे।