सीवान में हेना आगे तो महाराजगंज में रणधीर व सिग्रीवाल से सीधी टक्कर!

0
chunav

सीवान व महाराजगंज में थम गया प्रचार

प्रत्यासियों की बढ़ी बेचैनी

परवेज़ अख्तर(पत्रकार)सीवान :- लोकसभा चुनाव के छठे चरण में सीवान में चुनाव होना है।12 मई को होने वाले इस चुनाव की प्रशासनिक तैयारियां पूरी कर ली गई है।प्रशासनिक तैयारी ऐसी है की सम्पूर्ण जिले में एक परिंदा भी पर नहीं मार सकेगा।सीवान लोक सभा व महाराजगंज लोक सभा में चुनाव को शांति पूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने के लिए कई अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती मजिस्ट्रेट के साथ सभी बूथों पर की गई है। प्रशासन की गाड़ियाँ एक टोली बनाकर सड़कों पर सरपट दौड़ रही है।यहाँ बताते चले की सीवान में महागठबंधन के प्रत्यासी सह पूर्व सांसद मो.शहाबुद्दीन की पत्नी हेना शहाब व दरौंदा के जदयू विधायक सह एनडीए प्रत्यासी कविता सिंह से सीधी टक्कर मानी जा रही है। अब तक के निचोड़ में जो बातें सामने आ रही है। उसमे महागठबंधन के प्रत्यासी हेना शहाब सबसे आगे चल रही है।कारण यह है की उन्हें सभी वर्गों का जोरदार समर्थन मिल रहा है।वहीं लड़ाई को मात देने के लिये एनडीए के प्रत्यासी कविता सिंह के पति अजय सिंह के द्वारा कई तरह के हथकंडे अपनाये जा रहे है। हेना को पछाड़ने के लिये अपनी ओछ मानसिकता का परिचय देते हुए कहीं भारत तो कहीं पकिस्तान का हवाला दे रहे है। जिस का ऑडियो व विडिओ आज एक पखवारा से सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है। उधर सोशल मिडिया पर खूब हो रहे वायरल विडिओ व अजय सिंह के ओछ मानसिकता को देख महागठबंधन के प्रत्यासी हेना शहाब ने अपने कई जगह के चुनावी कार्यक्रम में उन्हें पागल घोषित अपने दबी जुबान से भी कर चुकी है और यहाँ तक के लोगों ने भी हेना शहाब के बातों का समर्थन कर खूब तालियां बजाते हुए देखे गये है। हेना का भी विडिओ क्लिप भी सोशल मिडिया पर खूब वायरल हो रही है। यह भी एक ऑडियो क्लिप सोशल मिडिया पर खूब वायरल हो रही है की जिसमे अजय सिंह के समर्थक फोन पर एक व्यक्ति से बात कर बोल रहे है की अगर भाजपा नेता की बेटी सीवान के जेपी चौक पर लज्जा भंग कर खड़ी हो जाये फिर भी कविता को कोई हरा नही सकता। बतादें की सबसे ज्यादा इस ऑडियो क्लिप से आम-जन मानस शर्मसार है।कारण यह है की घर में रहने वाली पर्दानसीं मां-बहन के बारे में बोलना मानवता को शर्मसार कर रहा है। जिससे सभी वर्गों के लोग काफी खफा है। बतादें की जिस नेता के बारे में ऑडियो क्लिप वायरल हो रहा है वे कोई साधारण व्यक्ति नही है बल्कि अजय सिंह व कविता सिंह को वे उनके ही विधान सभा इलाके में पूर्व में भी पटखनी दे चुके है और आज भी पटखनी की हैसियत आम-जनमानस के बल पर रखते है!बहरहाल चाहे जो हो आज एक सप्ताह से सोशल मिडिया पर खूब हो रहे ऑडियो क्लिप व वीडियो क्लिप के वायरल आमजनमानस के नाकों दम कर दिया है। या इसे यूँ कहा जा सकता है की लड़ाई का रास्ता और साफ कर दिया है। यहाँ गौर करने की बात यह है की मतदाता भी काफी सजग दिख रहे है। यहाँ के लोग गंगा जमुनी तहजीब को बिखरने नहीं देने के लिए काफी मुस्तैद है। वहीं महाराजगंज लोक सभा में भी महागठबंधन के रणधीर सिंह व एनडीए के प्रत्यासी जनार्दन सिंह सिग्रीवाल में सीधी टक्कर की बात सामने आ रही है।यहाँ लड़ाई को रोचक बनाने के लिये कई तरह के गणित इस्तेमाल हो रहे है।लेकिन अब तक के रुझान में एनडीए के प्रत्यासी आगे है। लेकिन बसपा से पूर्व मुख्यमंत्री श्री लालू प्रसाद के साला श्री साधू यादव के चुनावी दंगल में कूद जाने से यहाँ लड़ाई और रोचक दिख रही है।बसपा प्रत्यासी से महागठबंधन के प्रत्यासी को नुकसान होने का सम्भावना दिख रहा है।बतादें की साधू यादव भी राजनीत के मंझे हुए खिलाड़ी माने जाते है।जातीय आधार पर महाराजगंज लोक सभा में बात करें तो बसपा के अच्छी-खासी कैडर वोट भी है।लेकिन यह कैडर वोट अबकी बार महागठबंधन को मिलने के आसार थे लेकिन साधू के सेंधमारी ने महागठबंधन के प्रत्यासी के नाकों दम कर दिया है।अब देखना है की वोट के सेंधमारी में साधू कहाँ तक कामयाब हो पाते है या नही यह तो गर्भ की बात है।अगर महागठबंधन के प्रत्यासी रणधीर सिंह की बात करें तो उनको राजनीत बिरासत में मिली हुई नेमत है।इनकी भी पूरे सारण प्रमंडल में राजनीत के खलनायक के रूप में इनकी एक अलग पहचान है।बहरहाल चाहे जो हो अब तक के चुनावी आकलन आमजनमानस के मुताबिक सीवान में महागठबंधन आगे और महाराजगंज में सीधी टक्कर की बात सामने आ रही है। उधर मतदाता की चुप्पी ने प्रत्यासियों की बेचैनी भी बढ़ा दी है। लेकिन अगर मतदाता के भीतरघात से प्रत्यासी उबर गए तो दोनों जगहों पर अंत-अंत तक लड़ाई रोचक होगी।

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here