सिवान जंक्शन से 1 K.M. दूर डिरेल हुई मालगाड़ी, घंटो परिचालन बाधित

0
train

परवेज़ अख्तर/सिवान:- सिवान जंक्शन से एक किलोमीटर की दूरी पर शनिवार की अलसुबह 2:45 मिनट पर सिवान-हथुआ रेलखंड पर कटिहार से अनलोड होकर आ रही मालगाड़ी डिरेल हो गई। प्वाइंट संख्या 202 पर इंजन से तीसरे वैगन के आगे के चार चक्के बेपटरी हो गये । इस कारण अप व डाउन लाइन ट्रैक पर परिचालन कुछ घंटों के लिए बाधित हो गया। इसकी सूचना जैसे ही जंक्शन सहित कंट्रोल रूम को हुई कर्मियों में हड़कंप मच गया। आनन फानन में जीआरपी, आरपीएफ, इंजीनियरिंग विभाग सहित पूरा विभाग घटनास्थल पर पहुंचा और ट्रैक से क्षतिग्रस्त बोगियों को हटाने में जुट गया। इस कारण अप व डाउन लाइन ट्रैक पर सुबह तीन बजे के बाद आठ बजे तक किसी भी ट्रेन का परिचालन नहीं हो सका। आठ बजे जब सिवान-गोरखपुर इंटरसिटी को रवाना किया गया तो डाउन बिहार संपर्क क्रांति सुपर फास्ट एक्सप्रेस जंक्शन के एक नंबर प्लेटफाॅर्म पर आई। वहीं थोड़ी देर बाद इसके पीछे डाउन जनसेवा और ग्वालियर-बरौनी एक्सप्रेस ट्रेन जंक्शन पर आई और अगले जंक्शन के लिए प्रस्थान कर गई। वहीं अप लाइन से पहुंची छपरा इंटरसिटी भी आठ बजे के करीब आगे बढ़ाई गई।डाउन संपर्क क्रांति काे जीरादेई, जनसेवा को मैरवा-जीरादेई के बीच व ग्वालियर बरौनी को मैरवा में रोक कर खड़ा कर दिया गया था। इधर ट्रेनों के समय से जंक्शन पर नहीं आने के कारण जंक्शन पर यात्रियों की भीड़ काफी संख्या में एकत्रित हो गई थी। लोग पूछताछ काउंटर पर पहुंच कर ट्रेनों की वास्तविक स्थिति की जानकारी ले रहे थे। जानकारी के अनुसार लाइन नंबर 5 से बीसीएन/एचएल अनलोड होकर अम्लोरी सरसर की तरफ जा रही मालगाड़ी सुबह डिरेल हो गई। शनिवार की सुबह करीब 11 बजे ट्रैक को अधिकारियों की निगरानी में ठीक कर दिया गया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

maal gadi

कैसे पटरी से उतरी मालगाड़ी

कटिहार से अनलोड होकर आ रही मालगाड़ी शनिवार की अलसुबह सिवान जंक्शन पहुंचने के बाद 2:30 में गोरखपुर के लिए निकाली। जैसे ही यह कंधवारा ढाला समीप पहुंची तो करीब 2:40 बजे जब कोचिंग कंट्रोल के हुटर बजना शुरू हुए तो रेल पदाधिकारियों व कर्मचारी सकते में आ गए। सूचना मिली कि लाइन नंबर पांच बीसीएन/एचएल अनलोड होकर अमलोरी स्टेशन की ओर जा रही थी। प्वाईट संख्या 202 पर इंजन से तीसरे वैगन के आगे के चार चक्के बेपटरी हो गये है। इस कारण ट्रेन वहीं खड़ी हो गई। डिब्बे को अलग अलग कर कुछ वैगन को अमरोली स्टेशन के लिए बढ़ दिया गया।

छपरा से पहुंची सहायता यान

डिरेल होने की सूचना मिलने के बाद छपरा जंक्शन से दुर्घटना सहायता कर्मचारी यान को बुलाया गया।दुर्घटना स्थल पर पहुंचे और क्षतिग्रस्त ट्रैक की मरम्मती कार्य में लग गए। स्पार्ट की टीम ने करीब चार बजे तक मेन लाइन को क्लीयर कर मेन लाइन से ट्रेनों का परिचालन शुरू करा दिया। वे करीब 11 बजे दिन में सिवान-हथुआ को क्लीयर कर दिया गया। ट्रेनों के परिचालन शुरू होते ही रेल यात्रियों ने राहत की सांस ली।