हुसैनगंज: रईस खान के काफिले पर हमलावरों ने एके-47 से किया हमला

0

पुलिस नाकेबंदी कर अपराधियों की गिरफ्तारी में जुटी, जिले का राजनीतिक तापक्रम चरम पर

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के हुसैनगंज थाने के महुवल गांव के समीप सोमवार की रात्रि करीब 11:30 बजे अत्याधुनिक स्वचालित एके-47 से लैस अपराधियों ने स्थानीय निकाय प्राधिकरण एमएलसी चुनाव के निर्दलीय प्रत्याशी रईस खान के काफिले गोलियों की बौछार कर दिया. इस घटना में निर्दलीय प्रत्याशी रईस खान बाल-बाल बच गए. परंतु उनके दो समर्थकों सहित सात लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गए. घायलों में शामिल एक व्यक्ति की मौत हो गई. घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची तथा घटनास्थल से काफी मात्रा में गोली के खोखा को बरामद किया. पुलिस अधीक्षक शैलेश कुमार सिन्हा रात्रि में निजी अस्पताल एवं सदर अस्पताल पहुंचे तथा घटना की जानकारी लिया. सभी घायलों को रात्रि में सदर अस्पताल में भर्ती किया गया उसके बाद उन्हें निजी अस्पतालों में भर्ती कराया गया.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

घटना के संबंध में बताया जाता है कि रात्रि करीब 11:30 बजे निर्दलीय प्रत्याशी रईस खान अपने काफिले के साथ शहर स्थित अपने कार्यालय से गांव जाने के लिए निकले. बताया जाता है कि रात्रि में रेलवे क्रॉसिंग बंद होने के कारण रईस खान के काफिले के पीछे अन्य लोगों के भी वाहन कतार में थे. रईस खान ने मीडिया कर्मियों से बताया कि महुवल गांव के समीप पहले से घात लगाए एके-47 से लैस करीब तीन चार अपराधियों ने गाड़ी पर अंधाधुंध फायरिंग करना शुरू कर दिया. उन्होंने बताया कि मेरी गाड़ी तेजी के साथ किसी तरह निकल गई. लेकिन मेरे पीछे वाली गाड़ी अपराधियों के गोली का निशाना बनी. रईस खान के साथ पीछे की गाड़ियों में सवार करीब तीन चार लोग जख्मी हो गए. इसमें तेग अली खान को तीन गोली लगने के कारण हालत गंभीर थी. रईस खान के काफिले के पीछे चल रहे एक अन्य बोलेरो गाड़ी भी अपराधियों की गोली का निशाना बनी.

बारात में शामिल होकर लौट रहे सिसवन गांव के विनोद यादव की मौत अपराधियों की गोली से हो गई. एक अन्य वैगनआर कार में अपने घर लौट गए राकेश तिवारी एवं उनकी पत्नी इंदु तिवारी भी अपराधियों के गोली की निशाना बनी. अपराधियों ने इनके गाड़ी के पहिए को निशाना बनाया. गोली लगने के बाद राकेश तिवारी किसी तरह अपनी गाड़ी से वापस सदर अस्पताल पहुंचे. इधर गंभीर रूप से जख्मी तेग अली खान को शहर के एक निजी अस्पताल में ऑपरेशन किया गया. घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची तथा घटनास्थल से काफी मात्रा में गोली के खोखा को बरामद किया. पुलिस अधीक्षक शैलेश कुमार सिन्हा रात्रि में निजी अस्पताल एवं सदर अस्पताल पहुंचे तथा घटना की जानकारी लिया. सभी घायलों को रात्रि में सदर अस्पताल में भर्ती किया गया उसके बाद उन्हें निजी अस्पतालों में भर्ती कराया गया. इस मामले में पुलिस द्वारा अभी तक एफआईआर दर्ज नहीं की जा सकी. पुलिस का कहना था कि अभी निर्दलीय प्रत्याशी की तरफ से कोई आवेदन नहीं दिया गया है.