मामूली विवाद में चाकू से गोदकर चाचा की हत्या, चाची व भाई को भी किया घायल

0

परवेज अख्तर/सीवान : जिले के गोरेयाकोठी में चापाकल गाड़ने के दौरान हुये विवाद में एक भतीजे ने अपने चाचा के गर्दन पर चाकू से वार कर मौत के घाट उतरा दिया. घटना गोरेयाकोठी थाना क्षेत्र के छितौली मुसहर टोली की है. आरोपी ने उस समय घटना को अंजाम दिया, जब उसके चाचा शौच से आकर चापाकल पर हाथ-पैर धो रहे थे. यही नहीं बीच-बचाव करने पहुंची चाची व उनके पुत्र को भी चाकू से वार कर घायल कर दिया और फरार हो गया. इधर, आसपास के लोगों ने घायल दोनों मां-बाप को अस्पताल में भर्ती कराते हुए घटना की सूचना दी. सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. वहीं आरोपी भतीजे की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है. बताया जाता है कि थाना क्षेत्र के छितौली मुसहर टोली निवासी बहारन रावत रोज की भांति शौच करने के बाद अहले सुबह 3 बजे हाथ-पैर धो रहे थे. इसी दरम्यान उनका भतीजा वीरेंद्र रावत पहुंचा. वह चाचा बहारन से विवाद करने लगा. गौरतलब हो कि पूर्व में चापाकल गाड़ने के दरम्यान चाचा-भतीजा में कहासुनी हुयी थी, जिसे ले वीरेंद्र खार खाया हुआ था. विवाद के दरम्यान ही भतीजा वीरेंद्र ने चाकू निकालकर चाचा के गर्दन पर वार कर दिया. इसके बाद पीठ पर भी चाकू से वार किया. चाकू लगते ही बहारन चिल्लाने लगे. उनकी आवाज सुन पत्नी यशोदा देवी देने भाग रहे वीरेंद्र को पकड़ने की कोशिश की, लेकिन वीरेंद्र ने पेट में चाकू से वार कर उन्हें भी घायल कर दिया. मां-पिता के चिखने की आवाज सुन उनका पुत्र बेटा पप्पू रावत दौड़कर आया. यह देख वीरेंद्र पप्पू की ऊपर भी चाकू से वार कर दिया. इसके बाद फरार हो गया. शोरगुल की सूचना पर पहुंचे आसपास के लोगों ने घायल मां-बेटे को इलाज के लिए स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया और पुलिस को सूचना दी. सूचना पर थानाध्यक्ष रविकांत दूबे व एएसआई सुरेश सिंह दलबल के साथ पहुंच बहारन मांझी के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. थानाध्यक्ष रवि कांत दुबे ने बताया कि पुलिस मां के बयान पर प्राथमिकी दर्ज कर गिरफ्तारी कर रही है. शीघ्र आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जायेगा.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal