भागलपुर में वालों ने विधवा को दो वर्ष की मासूम बच्ची के साथ जिंदा जलाया, मासूम की मौत

0

भागलपुर: खरीक प्रखंड के तुलसीपुर गांव में विधवा महिला बेचनी देवी (23 वर्ष) को ससुराल वालों ने दो वर्ष की मासूम बच्ची मनीषा कुमारी के साथ मिट्टी तेल छिड़क कर जिंदा जला दिया। बेचनी देवी के पति विनय कापरी हैं। विनय कापरी का निधन बहुत पहले हो गया है। इस घटना में मासूम बच्ची की मौत हो गई। वहीं, महिला के गंभीर रूप से जख्‍मी होने की सूचना है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

झुलसी महिला को गंभीर स्थिति में इलाज के लिए खरीक पीएचसी लाया गया। जहां चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद मायागंज रेफर कर दिया गया। महिला की इलाज कहां हो रही इस बात की स्पष्ट जानकारी नहीं मिल रही है। जिसकी पुलिस भी पता लगाने में जुटी हुई है। रविवार सुबह 11 बजे की यह घटना बताई जा रही है। लेकिन स्थानीय लोगों को घटना की भनक तब लगी, जब झुलसी महिला के मायके वाले रविवार की शाम खरीक थाना पहुंचे।

जिसके बाद पुलिस हरकत में आई एवं तुलसीपुर पहुंची। घर के सभी सदस्य फरार थे। कमरे से मिट्टी तेल का दुर्गंध आ रहा था। वहीं पड़ोसी के यहां छिपी बच्ची की दादी जयमाला देवी (60 वर्ष) को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। बच्ची के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए नवगछिया भेजा। महिला को एक पुत्र और एक पुत्री है। पुत्र ननिहाल में रहता है। पुत्री मां के साथ थी।

मायके वालों ने आरोप लगाते हुए कहा कि ससुराल वालों ने पूरी तैयारी के साथ महिला एवं उसकी बच्ची को आग लगाकर जिंदा जलाने के प्रयास में थे। किंतु घटना को दुर्घटना का रूप देने एवं अपने कुकृत्य को छिपाने के लिए अंतिम स्थिति में उसे इलाज के लिए ले गया।

मायके वालों ने कहा कि पूर्व में भी मेरी बेटी को ये लोग काफी प्रताड़ित करते थे। जिसको लेकर कई बार ससुराल वालों को समझाया-बुझाया भी गया। किन्तु, ये लोग अपनी हरकत से बाज नहीं आए और अंततः बड़ी घटना को अंजाम दे ही दिया। वहीं, पड़ोस के लोगों ने बताया कि इसके यहां रोज आपसी विवाद होते रहता था। ग्रामीणों ने बताया कि महिला के पति ने बेचनी देवी से दूसरी शादी की थी। जानकारी के अनुसार, पहली पत्नी को भी जहर खिलाकर मार डाला था। जिसके बाद बेचनी देवी से दूसरी शादी किया।

शादी के बाद कुछ दिनों तक सबकुछ ठीक रहा। इसके बाद करीब ढाई साल पूर्व इनके पति विनय की गंभीर बीमारी से मौत हो गई। जिसके बाद सास, गोतनी, देवर समेत सभी ससुराल वालों ने प्रताड़ित करने लगा। महिला पांच गोतनी में सबसे बड़ी है। इधर पुलिस हिरासत में महिला की सास ने बताया कि महिला ने खुद आग लगाई है। किन्तु, इस स्थिति सबसे बड़ा सवाल है कि महिला के ससुराल वालों ने पुलिस को इसकी सूचना क्यों नहीं दी और घर से सभी सदस्य क्यों फरार है।थानाध्यक्ष पंकज कुमार ने बताया कि महिला की सास जयमाला देवी को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है, घायल महिला का कहां इलाज हो रहा है। इसका पता लगाने में पुलिस जुटी हुई है। अन्‍य सदस्‍यों को गिरफ्तार करने का प्रयास किया जा रहा है।