छपरा में बाइक शरीर से टच होने पर दो पक्षों में खुनी संघर्ष, चले तलवार और फरसा, तीन भाई गंभीर

0
bhumi vivad

छपरा: जिले के तरैया थाना क्षेत्र के खराटी गांव में शनिवार की रात मामूली विवाद को लेकर दो पक्षों के बीच हिंसक झड़प हो गई । इस दौरान तलवार एवं फरसा से किए गए वार में एक पक्ष के तीन भाई गंभीर रुप से घायल हो गए। घायलों में शामिल थाना क्षेत्र के सिरमी टोला निवासी तीन भाई अशोक राय, राजकिशोर राय एवं उपेंद्र राय को इलाज के लिए ग्रामीणों की सहायता से पुलिस जीप से तरैयां रेफरल अस्पताल लाया गया। जहां प्राथमिक उपचार के बाद हालत गंभीर देख चिकित्सक ने उन्हे बेहतर इलाज के लिए सदर अस्पताल छपरा रेफर कर दिया। इस घटना के बाद दोनों पक्षों के बीच तनाव काफी बढ गया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

जानकारी मिलते ही तरैया थाना पुलिस मौके पर पहुंची। मौके से एक महिला समेत 12 लोगों को हिरासत में लिया और स्थिति की जानकारी एसपी को दी। इसके बाद मौके पर पहुंचे मशरक के पुलिस इंस्पेक्टर उदय प्रताप सिंह, थानाध्यक्ष राजेश कुमार के साथ ही इसुआपुर,मढ़ौरा,पानापुर,परसा,भेल्दी,मकेर,गौरा ओपी व अमनौर थाना पुलिस एवं एसटीएफ ने स्थिति को नियंत्रित किया। घटना के बाद से पुलिस वहां कैंप कर रही है।घायल के बयान पर दर्ज हुई प्राथमिकी, 12 आरोपित

घायल अशोक राय के फर्द बयान पर तरैया थाना में एक महिला समेत 12 लोगों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कर पुलिस मामले की तहकीकात कर रही है। दर्ज प्राथमिकी में गुलाब आलम,अकलू मास्टर, फिराज अली,शाहिद अली,मेराज आलम,मुन्ना अली, इरफान अली,मुश्ताक अली व उमदम बेगम को आरोपित किया गया है। इनमें इनमें अकलू मास्टर व फिरोज अली घटना के बाद फरार हो गए। वहीं अन्य आरोपितों को हिरासत में लेने के बाद पूछताछ कर थाना पुलिस ने जेल भेज दिया है।बाइक से स्‍पर्श पर शुरू हुआ विवाद

दर्ज प्राथमिकी में अशोक राय ने बताया है कि शनिवार की शाम वह बाइक से अपने घर जा रहा था। तभी खरांटी में अपने घर के पास सड़क पर खड़े गुलाब आलम के शरीर में बाइक स्पर्श कर गया। इस पर वह गाली देना लगा तो अशोक चुपचाप घर चला गया। फिर देर शाम लगभग नौ बजे अपने भाई उपेंद्र व राजकिशोर के साथ ट्रैक्टर से तरैया जा रहा था कि पहले से घात लगाए बैठे आरोपितों ने तलवार,फरसा व लाठी डंडा से लैस होकर घेर लिए तीनों भाईयों पर हमला कर दिया । जिससे वे लोग गंभीर रुप से घायल हो गए ।घटना के बाद पुलिस छावनी में तब्दील हुआ खरांटी गांव

घटना के बाद बढ़े तनाव की जानकारी मिलते ही सारण पुलिस सर्तक हो गई। किसी भी परिस्थिति में सामाजिक सौहार्द एवं विधि व्यवस्था कायम रखने के उदेश्य से एसपी के निर्देश पर बड़ी संख्या में पुलिस के अधिकारी एवं जवान के साथ एसटीएफ के जवान वहां पहुंच गए। मढ़ौरा एसडीपीओ इंद्रजीत बैठा,मशरक पुलिस इंस्पेक्टर उदय प्रताप सिंह व थानाध्यक्ष राजेश कुमार व तरैया के प्रभारी थानाध्यक्ष दलबल के साथ पहुंच आक्रोशित ग्रामीणों को समझा कर शांत कर रहे थे ।

पुलिस अधिकारी ने आश्वासन दिया कि आरोपित को जल्द गिरफ्तार किया जाएगा। मौके पर तरैया एवं मशरक के अलावा रात में ही सारण एसपी के आदेश पर नगरा,खैरा, इसुआपुर,मढ़ौरा,पानापुर,परसा,भेल्दी,मकेर,गौरा ओपी व अमनौर थाना पुलिस एसटीएफ के साथ पहुंच कर स्थिति को नियंत्रित किया। एसपी संतोष कुमार स्वयं मध्य रात्रि में घटनास्थल पर पहुंच स्थिति का जायजा लिया। घटना स्थल पर तरैया सीओ अंकु गुप्ता के साथ पुलिसकर्मी कैम्प किए है।