बड़हरिया के जोगापुर में संपत्ति को लेकर बहुओं ने कर दी ससुर की पीट-पीटकर हत्या

0

थाना क्षेत्र के कैल टोले जोगापुर गांव की है घटना

✍️परवेज़ अख्तर/एडिटर इन चीफ:
बड़हरिया थाना क्षेत्र के कैल टोले जोगापुर गांव में संपत्ति को लेकर एक 70 वर्षीय वृद्ध की अपने ही परिजनों ने पीट-पीटकर घायल कर दिया, जिससे मरणासन्न वृद्ध की मौत हो गयी. विदित हो कि थाना क्षेत्र के जोगापुर निवासी स्व श्रीराम प्रसाद के 70 वर्षीय पुत्र शिव शंकर प्रसाद को उनके ही दो पुत्रों की पत्नियों ने लबदा, डंडा, कुल्हाड़ी आदि से पीट-पीटकर इस कदर जख्मी कर दिया कि उनकी मौत हो गयी. बताया जाता है कि शिवशंकर प्रसाद के मोलन प्रसाद, बिहारी प्रसाद व हजारी प्रसाद तीन बेटे हैं. शिवशंकर प्रसाद अपने छोटे हजारी प्रसाद के साथ रहते थे, जिससे अन्य को लगता था कि वे अपनी जमीन-जायदाद उन्हीं को दे देंगे. पड़ोसियों का कहना है कि शिवशंकर प्रसाद की तबीयत 17 अगस्त रात में खराब हो गयी. इसलिए वे अपना इलाज कराने के लिए मोलन प्रसाद व बिहारी प्रसाद से पैसे मांगने गए. इस पर उनकी पत्नियां संगीता देवी व उमरावती देवी आग बबूला हो गयीं.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM
WhatsApp Image 2022-09-27 at 9.29.39 PM

बहुओं उमराव देवी व संगीता देवी ने लाठी-डंडे व टांगी से पीट-पीटकर उन्हें गंभीर रूप से घायल कर दिया. वहीं कुछ ग्रामीणों का कहना है कि शिवशंकर प्रसाद से जमीन-जायदाद के मामले में नाराज चल रहीं बहुओं ने बुधवार की रात करीब आठ बजे उन्हें प्रसाद देने के नाम पर उस वक्त घेर लिया,जब सोने के लिए खेत की ओर जा रहे थे.संयोगवश बिजली नहीं थी, इसका फायदा उठाकर बहुओं ने उन्हें लबदा,डंडा,कुल्हाड़ी आदि से प्रहार कर अधमरा कर दिया. परिजनों ने आनन-फानन में गंभीर रुप से घायल को इलाज के लिए सीएचसी, बड़हरिया पहुंचाया. वहां उनकी गंभीर स्थिति देखते हुए डॉक्टरों ने सदर अस्पताल सीवान रेफर कर दिया. बताया जाता है कि हाथ,टांग,कमर टूट गये थे व सिर फट गया था. इलाज चलने के बाद 20 अगस्त यानी शनिवार की रात में उनकी मौत हो गई.मौत के बाद परिजनों ने शिवशंकर प्रसाद के शव को घर लाया. इसकी सूचना थाने को दी गयी.

मृतक चचेरे भाई हरेराम प्रसाद का कहना है कि उन्होंने खुद थाने आकर इस घटना की जानकारी दी. लेकिन पुलिस ने मामले में रुचि नहीं दिखायी. शव को आने के 24 घंटे बाद भी घटनास्थल पर पुलिस नहीं पहुंचने से ग्रामीण नाराज हो गये. पुलिस की उदासीनता से नाराज जोगापुर के ग्रामीणों ने पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की.साथ ही, पुलिस की कार्यशैली पर अपनी नाराजगी जाहिर की. मृतक के चचेरे भाई हरेराम प्रसाद ने बताया कि दो बहुओं ने मिलकर अपने ही ससुर को लाठी डंडे से जमकर प्रहार कर गंभीर रूप से घायल कर दिया. इसके कारण मृतक का सिर फट गया व गहरा जख्म हो गया. दाहिना पैर दो जगहों से टूट गया है, कुल्हा टूट गया. उन्होंने बताया कि बेरहमी से मारपीट कर निर्मम हत्या कर दी गई है. ग्रामीणों ने बताया कि यह घटना उस वक्त हुई जब इलाज के लिए पैसे मांगने के लिए गए थे. 17 अगस्त को रात में भोजन कर अपने सब्जी की खेत की रखवाली करने जा रहे थे, तभी दोनों बहुओं ने बोला कर मारपीट कर घायल कर दिया था.

इधर मृतक के चचेरे भाई राम प्रसाद ने बताया कि सूचना देने के बाद भी पुलिस नहीं आई. परिजनों व स्थानीय ग्रामीणों ने पुलिस पर आरोप लगाया कि पुलिस कुछ बिचौलियों के चलते कोई कार्रवाई नहीं करना चाह रही थी. पुल इधर मृतक के परिजन मृतक की बहन बासमती देवी, चंदा देवी आदि नेपुलिस पर आरोप लगाए कि पुलिस अभी तक देखने तक नहीं आई है. परिजनों व ग्रामीण का आरोप है कि स्थानीय थाना शव का दाह संस्कार नहीं किया जाएगा. बाद एएसआइ शैलेश कुमार सिंह ने एंबुलेंस के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर शव को अपने कब्जे में ले लिया व पंचनामा कराकर शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल सीवान भेज दिया. जिसे बाद में दाह संस्कार के लिए परिजनों को सौंप दिया गया.