तंत्र विद्या के चक्कर में पिता ने दे दी बेटी की बलि! मारने के बाद शव दफनाया, श्मशान घाट से निकाली गई लाश

0

सीतामढ़ीः जिले के रीगा थाना क्षेत्र के उफरौलिया गांव में एक पिता ने तंत्र विद्या के चक्कर में अपनी बेटी की बलि दे दी. मारने के बाद शव को श्मशान में गाड़ दिया. सोमवार को इसका खुलासा तब हुआ जब कुछ लोगों ने श्मशान में मिट्टी की खुदाई की. इस पूरे मामले की जानकारी पुलिस को दी गई. मौके पर पहुंची पुलिस ने पिता से पूछताछ की जिसके बाद उसने पूरा राज उगला.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

दरअसल, इंदल महतो ओझा-गुणी के चक्कर में रहता था. उसकी तीन बेटियां हैं. एक पुत्री की शादी हो चुकी है. एक पुत्री को लेकर उसकी पत्नी मायके गई थी. 12 साल की छोटी पुत्री घर पर थी. इंदल बराबर पुत्रियों की शादी को लेकर चिंतित रहता था. उसकी पत्नी ने पुलिस को बताया कि पति पुत्रियों की हत्या कर देने की बराबर धमकी देता था. वह मायके में थी. इसी बीच इस घटना को अंजाम दे दिया गया.

हत्यारे पिता को पुलिस ने किया गिरफ्तार

थानाध्यक्ष संजय कुमार ने इंदल महतो को हिरासत में लेकर काफी पूछताछ की. पहले तो वह खामोश रहा. जब पुलिस ने सख्ती की, तो उसने पूरा राज उगल दिया. पुलिस को बताया कि घर में ही उसने पुत्री की हत्या की और शव को श्मशान में ले जाकर गाड़ दिया. शव को सोमवार की देर रात श्मशान से निकाल कर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेजा गया. पुलिस को जांच-पड़ताल में घर से खून के धब्बे मिले हैं.

इधर स्थानीय लोगों ने आरोपित पिता को फांसी की सजा देने की मांग की है. पड़ोस की एक महिला ने बताया कि जो व्यक्ति अपनी संतान का नहीं हुआ, वह किसी और का कैसे हो सकता है. ऐसे को जेल में सड़ा देना चाहिए या फांसी की सजा देनी चाहिए.

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here