जेडीयू के समीक्षा बैठक में थानेदार की मनमानी पर उठे सवाल 

0
JDU

परवेज़ अख्तर/सिवान:- शहर के जिप्सी कैफे में शुक्रवार को जेडीयू की समीक्षा बैठक में कार्यकर्ताओं से पंचायत तक जेडीयू के संगठन की मजबूती को चर्चा की गई। बैठक में पार्टी के राष्ट्रीय सचिव संजय वर्मा व प्रदेश मुख्यालय प्रभारी मृत्युजंय सिंह के समक्ष कार्यकर्ताओं की अनदेखी को ले कई मामले उठे। प्रखंड अध्यक्षों ने कहा की प्रखंड में थानेदार की मनमानी चलती है, थानेदार जनता की सेवा नहीं करते हैं। बैठक में जेडीयू के स्थायी जिलाध्यक्ष का मुद्दा उठा। मैरवा के प्रखंड अध्यक्ष मुरली पटेल ने नाराजगी जताते हुए कहा कि कुछ कहने का क्या फायद जब बात उठाने पर ऊपर तक बात जाती ही नहीं।  समीक्षा में जेडीयू के पूर्व जिलाध्यक्ष मंसूर आलम ने कहा कि सिवान संसदीय क्षेत्र में जेडीयू के चार विधायक व दो एमएलसी हैं। उन्होंने यहां से एक जनप्रतिनिधि को मंत्री बनाए जाने की मांग राष्ट्रीय सचिव व प्रदेश मुख्यालय प्रभारी से की। जेडीयू के राष्ट्रीय सचिव संजय वर्मा ने कहा कि पूरे जिले में समीक्षा कार्यक्रम पार्टी बूथ व पंचायत स्तर तक कर रही है। समीक्षा बैठक में दिशा निर्देश दिया गया कि जो इनकी बात है वह आगे पार्टी के वरीय पदाधिकारियों के समक्ष रखी जाएगी। कार्यक्रम में जिला परिषद अध्यक्ष संगीता यादव, जीरादेई विधायक रमेश सिंह कुशवाहा,प्रभारी जिलाध्यक्ष इंद्रदेव सिंह पटेल, जेडीयू नेता अजय सिंह, मंसूर आलम, मुर्तुजा अली कैसर, निभा सिंह, चंद्रकेतु सिंह, लालबाबू  प्रसाद, शंभु गुप्ता, विजय प्रसाद वर्मा व आदि पार्टी के कार्यकर्ता मौजूद थे।