बिहार के इस सरकारी मेडिकल कॉलेज अस्पताल में गार्ड और दाई कराती हैं प्रसव, वीडियो वायरल

0

पटना: बेतिया के गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज अस्पताल(जीएमसीएच) में बड़ी लापरवाही उजागर हुई है। यहां डॉक्टर गायब रहती हैं और उनके बदले प्रसव वार्ड में दाई और महिला गार्ड प्रसव कराती है। जीएमसीएच के प्रसव वार्ड का एक ऐसा हीं वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें महिला डॉक्टर अनुपस्थित हैं और दाई, गार्ड और नर्स मिलकर प्रसव करा रही है। वीडियो वायरल होने के बाद जीएमसीएच में हड़कम्प मच गया है और उपाधीक्षक ने जांच के आदेश दे दिए हैं। दरअसल जीएमसीएच का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में एक प्रसूता को 4-5 महिलाएं घेरी हुई हैं। एक महिला ऊंचे टेबल पर चढ़कर उसका पेट दबा रही है। वीडियो में जीएनएम भी दिख रही है। हालांकि हिन्दुस्तान वीडियो की पुष्टि नहीं करता है। बताया जा रहा है कि डॉक्टर की गैरमौजूदगी में गार्ड, दाई और नर्स प्रसव करा रही हैं। अस्पताल उपाधीक्षक डॉ. श्रीकांत दुबे ने बताया कि प्रसूति वार्ड में दाई व महिला गार्ड द्वारा प्रसूता का प्रसव पेट दबाकर करने का वीडियो मेरे संज्ञान में नहीं आया है। अगर ऐसा हुआ है तो यह गलत है। पेट दबाने से भीतर किसी अंग को नुकसान पहुंच सकता है। इस मामले में छानबीन की जाएगी। मामला सत्य पाया गया तो दोषी कर्मियों के विरूद्ध कार्रवाई की जाएगी।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

रेफर मरीज को भी देखने के लिए महिला चिकित्सक नहीं आती

जीएमसीएच के प्रसूति वार्ड में महिला चिकित्सक कभी-कभार ही आती है। जीएनएम, दाई व महिला गार्ड ही अधिकांश प्रसव कराती है। शनिवार को सिकटा के मसवास की रहने वाली ललिता देवी ने सिकटा पीएचसी में पुत्री को जन्म दिया था। तबियत अधिक खराब होने पर चिकित्सकों ने उन्हें जीएमसीएच रेफर कर दिया। प्रसूति वार्ड में ललिता देवी के पास उनकी मां बलथर निवासी सुंदरपती देवी मौजूद थी। दोपहर के दो बजे चुके थे। सुंदरपती ने बताया कि 10 बजे वे लोग जीएमसीएच में पहुंचे हैं। लेकिन अभी तक कोई चिकित्सक मरीज को देखने के लिए नहीं आया है। इस संबंध में गायनी विभाग की इंचार्ज डॉ. सुधा भारती से संपर्क करने का प्रयास किया गया। लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो पाया है।

चिकित्सक के नहीं रहने पर प्रसूता की मौत

चिकित्सक के नहीं रहने पर एक और मरीज ने जीएमसीएच में दम तोड़ दिया। इस बार महिला चिकित्सक के प्रसूती वार्ड से अनुपस्थित थी। महनागनी की प्रसूता अनिता देवी (35) वार्ड में भर्ती कराया गया था। लेकिन इलाज के अभाव में शनिवार दोपहर उसकी मौत हो गई। उपाधीक्षक श्रीकांत दुबे ने बताया कि अधिक खून निकलने से प्रसूता की मौत होने की जानकारी मिली है।