चौपालों में किसानों को मिल रही आय दोगुनी करने की जानकारी

0
kishan

परवेज अख्तर/सिवान : जिले के भगवानपुर, बसंतपुर, रघुनाथपुर समेत अन्य प्रखंडों में किसान चौपाल का आयोजन किया गया। इस दौरान किसानों को कृषि से संबंधित कई जानकारियां निकाली गई। भगवानपुर हाट प्रखंड के शंकरपुर पंचायत के भेड़वनिया गांव स्थित विष्णु धाम मंदिर परिसर में शनिवार को आयोजित किसान चौपाल में पंचायत स्तर के किसानों ने भाग लिया। इस अवसर पर बीएओ वीरेंद्र कुमार मांझी ने किसानों की समस्या को सुना एवं उनके निदान के उपाय बताए। बीएओ ने किसानों के आय दोगुनी करने के भी टिप्स दिए। इस अवसर पर बीज ग्राम, मुख्यमंत्री तीब्र बीज विस्तार योजना, कृषि यांत्रीकरण, मिट्टी जांच, धान की सीधी बोआई, जैविक खेती आदि पर चर्चा की गई। तकनीकी सहायक पर्यवेक्षक नवनीत गोस्वामी, किसान सलाहकार शंकर यादव, पैक्स अध्यक्ष शंभू प्रसाद, उप मुखिया लखी चंद यादव, भिखारी प्रसाद, गणेश यादव, हीरा लाल प्रसाद,गौरी शंकर प्रसाद आदि किसान उपस्थित थे। बसंतपुर प्रखंड के सरेया श्रीकांत पंचायत के बभनौली सामुदायिक भवन तथा सूर्यपुरा पंचायत भवन पर शनिवार को दो जगहों पर कृषि चौपाल लगाकर किसानों की समस्याओं पर विचार किया गया। इस मौके पर कृषि पदाधिकारी सूर्य कुमार राम, प्रखंड प्रमुख शशिकांत सिंह, कृषि समन्वयक देवेंद्र कुमार सिंह, सुधीर कुमार सिंह, अरविंद कुमार उपाध्याय, मनोज कुमार सिंह, अखिलेश राम, मुखिया रीना देवी, उप मुखिया नन्हें कुमार, विनोद कुमार राम, रोशन कुमार तिवारी, मनौवर हुसैन आदि मौजूद थे। बड़हरिया प्रखंड के परासवा टोला गांव में शनिवार को कृषि चौपाल का आयोजन मुखिया पति नसीम अखतर की अध्यक्षता में की गई। इस चौपाल में बीएओ नंदलाल राम, एटीएम सतीश सिंह, पौधा संरक्षक रवि शुक्ला, एसी डॉ. रहमत, कौशल श्रीवास्तव, कृषि समन्यवक मनोरंजन कुमार, किसान सलाहकार अशोक कुमार प्रसाद, दिलीप कुमार, जाहिद अंसारी सहित सैकड़ों किसान मौजूद थे। बीईओ ने किसानों को खेती के बारे में नई तकनीकी की जानकारी देते हुए आय दोगुनी करने की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि अब किसी भी प्रकार का अनुदान किसानों के खाते में सीधे भेज जाएगा। किसान अपना रजिस्ट्रेशन ऑन लाइन कर सकते हैं।

किसान चौपाल में कुव्यवस्था को ले किसानों में रोष

कृषि विभाग द्वारा पंचायतों में चलाए जा रहे किसान चौपाल के अंतर्गत शनिवार को प्रखंड के कुशहरा पंचायत और खुजवा पंचायत में कृषि चौपाल का आयोजन किया गया। दूसरे पाली में खुजवा पंचायत के मीरपुर प्राथमिक विद्यालय के प्रांगण में आयोजित किसान चौपाल में कुव्यवस्था देखने को मिली। इस दौरान अधिकारियों को बोलने के लिए न बाइक की व्यवस्था थी और न किसानों के लिए भोजन की। विभाग द्वारा सभी व्यवस्था को ले कृषि पदाधिकारी को सौंपा गया था जिसमें 12000 रुपये प्रति पंचायत आवंटित किया गया है। बावजूद इसके बीएओ द्वारा किसानों को भोजन के नाम पर महज एक रसगुल्ला और एक समोसा खिलाकर चौपाल संपन्न करा लिया। इस संबंध में बीएओ से पूछे जाने पर उन्होंने टालमटोल करते हुए कहा कि किसान सलाहकार को इसकी जिम्मेदारी दी गई है। किसान सलाहकार से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि मुझे किसी प्रकार की कोई जिम्मेदारी नहीं मिली है।