सिवान में किसान चौपाल में किसानों को दी गई कृषि योजनाओं की जानकारी

0

परवेज़ अख्तर/सिवान:
जिले के विभिन्न प्रखंडों में रविवार को किसान चौपाल का आयोजन किया गया। इस दौरान किसानों को कृषि संबंधित योजना सहित आधुनिक तकनीकी से उन्नत खेती की जानकारी दी गई तथा इससे लाभ लेने के लिए किसानों को जागरूक किया गया। इस दौरान किसानों को जीरो टिलेज से गेहूं की बोआई करने के लिए प्रेरित किया गया। साथ ही किसानों को उन्नत खाद-बीज का उपयोग करने, समय पर सिचाई करने तथा कृषि उपकरण पर मिलने वाले अनुदान का लाभ उठाने के लिए जागरूक किया गया। साथ ही खेतों में पराली जलाने से होने वाले नुकसान को बताया गया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

दारौंदा प्रखंड बालबंगरा पंचायत के झंझवा गांव प्रौधौगिकी एवं प्रबंध अभिकरण आत्मा सिवान के सौजन्य से किसान चौपाल का आयोजन किया गया। इस दौरान किसानों को आत्मा से बन रहे कृषक हितकारी समूह, खाद्य सुरक्षा समूह, किसान पुरस्कार, किसान पाठशाला, किसान उत्पादन संगठन, किसानों के क्षमता संवर्धन के लिए क्षेत्र परिभ्रमण, कृषि के सभी क्षेत्रों में जैसे- पशुपालन, मशरूम की खेती, बागवानी, मछली पालन, मधुमक्खी पालन, जैविक खेती, मसाला की खेती, फूल की खेती आदि से संबंधित जानकारी दी गई तथा इस पर मिलने वाले अनुदान को विषय में बताया गया।

बड़हरिया प्रखंड के चौकी हसन पंचायत के मोतीहाता गांव में सहायक तकनीकी प्रबंधक सतीश सिंह, कृषि समन्वयक गुड्डू श्रीवास्तव, किसान सलाहकार बच्चा लाल प्रसाद की देखरेख में किसान चौपाल का आयोजन किया गया। कड़ाके की ठंड होने के बावजूद जीविका दीदियों एवं किसानों ने बढ़-चढ़कर भाग लिया। कार्यक्रम का संचालन प्रखंड तकनीकी प्रबंधक डॉ. सतीश कुमार ने किया। इस दौरान किसानों की आय दोगुनी करने के लिए डॉ. कुमार ने किसानों और जीविका दीदियों को मशरूम उत्पादन कार्य करने के लिए जागृत किया। उन्होंने कहा कि मशरूम बिना भूमि की खेती है। उन्होंने जल जीवन हरियाली अंतर्गत तालाब निर्माण, जल संचयन निर्माण, पौधारोपण तथा सूक्ष्म सिचाई व स्प्रिंकलर सिचाई आदि के बारे में जानकारी दी गई।

वहीं कृषि समन्वयक संजय कुमार साह ने मिट्टी जांच के विषय में जानकारी दी तथा फसल अवशेष प्रबंध के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी। इस मौके पर पूर्व सरपंच सत्येंद्र कुमार सिंह, संजय कुमार, अभय कुमार, किसान सलाहकार बच्चा लाल प्रसाद, रमेश कुमार गिरि, बिगु कुमार, राकेश कुमार गिरि, संजय चौधरी, अनिल कुमार प्रसाद समेत काफी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।