इंटीग्रेटेड मेडिकल एसोसिएशन का एक दिवसीय सेमिनार संपन्न

0

परवेज़ अख्तर/सीवान:- इंटीग्रेटेड मेडिकल एसोसिएशन के द्वारा एक सेमिनार का आयोजन किया गया जिसकी अध्यक्षता नेशनल इंटीग्रेटेड मेडिकल एसोसिएशन जिला अध्यक्ष डॉक्टर चिराग अली ने किया कार्यक्रम का उद्घाटन बिहार आयुर्वेदिक एवं यूनानी चिकित्सा परिषद के रजिस्टार डॉ अरुण कुमार आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉक्टर प्रजापति त्रिपाठी युनानी मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉक्टर जाहिद हुसैन आयुर्वेदिक कॉलेज के प्रोफेसर डॉ वाईएन पांडेय बेगूसराय से आए हुए वरिष्ठ चिकित्सक तथा राज्य के कोषाध्यक्ष डॉ अनिल विश्वकर्मा राज्य सचिव डॉ आलोक कुमार पटना एनआईए में के अध्यक्ष डॉक्टर अरविंद चौरसिया महिला फोरम के अध्यक्ष डॉ प्रेमलता ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित करके सेमिनार का शुभारंभ किया सेमिनार में मुख्य वक्ता के रूप में बोलते हुए बिहार आयुर्वेदिक एवं यूनानी चिकित्सा परिषद के रजिस्टार डॉ अरुण कुमार ने अपनी बातें विस्तार से रखें और इस क्रम में सिवान जिले में पिछले दिनों बीएएमएस तथा बी यू एम एस चिकित्सकों की क्लीनिक में मारे गए छापे को गलत बताया उन्होंने कहा कि बिहार काउंसिल इन चिकित्सकों को अपना व्यवसाय चलाने के लिए चाहे वह शिक्षा के क्षेत्र में हो या सरकारी क्षेत्र में हो या निजी प्रैक्टिस के रूप में हो पंजीकरण करके लाइसेंस निर्गत करता है यदि प्रशासन को किसी भी चिकित्सक के बारे में कुछ पूछना है या उस चिकित्सक के अधिकार के बारे में कुछ पूछना है तो उन्हें बिहार रजिस्टार से पूछना पड़ेगा क्योंकि कानूनी रूप से काउंसिल से पंजीकृत चिकित्सक को जितने भी अधिकार प्राप्त हैं उसके अनुसार वह प्रैक्टिस कर सकते हैं अपनी बातों को आगे रखते हुए उन्होंने बताया कि चिकित्सा क्षेत्र की अंडर ग्रैजुएट डिग्रियां जैसे बीएएमएस बी यू एम एस एमबीबीएस यह सभी स्नातक स्तर की डिग्रियां हैं और इन सभी चिकित्सकों के अधिकार भी बराबर हैं केवल शल्य क्रिया के नाम पर कोई प्रशासनिक पदाधिकारी को हक नहीं है कि वह इन्हें परेशान करें प्रशासन को मैनुअल संबंधित जो भी मार्गदर्शन चाहिए वह रजिस्टार बिहार को पत्र लिखें और रजिस्ट्रार बिहार उसका उत्तर देंगे परंतु जिस प्रकार से छापेमारी की जा रही है अगर यह क्रम इसी प्रकार से चलता रहा तो व्यक्तिगत रूप से उन सभी पदाधिकारियों के खिलाफ फौजदारी का मुकदमा कायम किया जाएगा क्योंकि किसी के सम्मान से खिलवाड़ करने को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता कानून सबके लिए बराबर है और चाहे वह चिकित्सक हो या पदाधिकारी हो उन्हें हर हालत में कानून का सम्मान करना ही पड़ेगा कोई भी व्यक्ति कानून के दायरे का अतिक्रमण नहीं कर सकता 1951 का गजट हो या 1977 का गजट हो बिहार राज्य में प्रैक्टिस करने वाले बीएएमएस और बी यू एम एस चिकित्सकों को सर्जरी तथा मॉडर्न एलोपैथिक पद्धति में प्रैक्टिस करने का अधिकार प्रदान किया गया है राज्य के कोषाध्यक्ष डॉ अनिल विश्वकर्मा तथा राज्य सचिव डॉक्टर आलोक कुमार ने एक अहम बात बताते हुए कहा कि जिस जिले में देशी चिकित्सा पदाधिकारी के पद मौजूद हैं और वहां पदस्थापित हैं ऐसी स्थिति में उनकी अनुमति के बगैर कोई भी पदाधिकारी किसी भी बीएएमएस तथा बीएएमएस चिकित्सक के क्लीनिक की जांच नहीं कर सकता यदि देशी चिकित्सा पदाधिकारी वहां उपलब्ध नहीं है केवल उसी स्थिति में सिविल सर्जन को यह अधिकार प्राप्त होता है पटना एनआईए में के अध्यक्ष डॉक्टर अरविंद चौरसिया ने संगठन के सुदृढ़ करने के ऊपर अपने विचार रखें सिवान आईएमए के अध्यक्ष डॉक्टर चिराग अली ने अपने संबोधन में कहा कि मैरवा के चिकित्सक डॉक्टर वशिष्ठ सिंह के खिलाफ प्रशासन द्वारा जो गैर जिम्मेदारी से भरी हुई कार्यवाही की गई उसके संबंध में न्याय मांगने के लिए डीएम महोदय को संगठन ने ज्ञापन सौंपा है उन्होंने कहा कि ज्ञापन में कानून संबंधी सभी कागजात उपलब्ध करा दिए गए हैं और हमें डीएम महोदया से आशा है कि वह स्वयं इस मामले को गंभीरता से लेगी तथा डॉक्टर वशिष्ठ सिंह के साथ न्याय करेंगे और उनकी क्लीनिक को जो सील किया गया है एनआईए में उम्मीद करता है कि जल्द से जल्द उसे मुक्त किया जाएगा डॉक्टर चिराग अली ने कहा कि हम प्रशासन के साथ कदम से कदम मिलाकर चलने के लिए हर समय तैयार हैं प्रशासन को जब भी आवश्यकता लगे वह एनआईए में को पत्र लिखकर के अपनी बातों से अवगत कराएं मुझे संगठन निश्चित रूप से प्रशासन का सहयोग करेगा अभी बिहार के विभिन्न क्षेत्रों में बाढ़ संबंधी आपदा है इस स्थिति से निपटने के लिए राज्य सरकार कार्य कर रही है सिवान एनआईए में भी बहुत जल्द डीएम साहब से मिलकर सहायता राशि उस फंड में भेजने वाला है कार्यक्रम का संचालन डॉक्टर केडी रंजन तथा डॉक्टर ख्वाजा एहतेशाम अहमद ने संयुक्त रूप से किया जब कि सिवान एन आईएमए के सचिव डॉक्टर आरके गुप्ता डॉक्टर नीरज श्रीवास्तव डॉक्टर ओपी यादव डॉक्टर रहमान डॉक्टर पंकज डॉक्टर पीयूष डॉ आशुतोष दिनेंद्र डॉक्टर जिज्ञासा डॉ सुनीता द्विवेदी डॉक्टर ओपी पांडे डॉक्टर अम्मार जाहिद डॉ आसिफ हुसैन डॉ प्रकाश चंद्र डॉक्टर अरुण राय मैरवा नीमा के अध्यक्ष डॉक्टर महेंद्र त्रिपाठी डॉ बीके चौरसिया डॉक्टर रूही शबाना डॉक्टर दरख्शां जबी डॉक्टर माहे कायनात डॉक्टर मुजफ्फर इकबाल डॉक्टर आबिद हुसैन डॉक्टर नौशाद आलम डॉ मिर्जा सरफराज डॉ रवि उद्दीन ने भी भाग लिया

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal