कहीं ऑर्केस्ट्रा से तो नही जुड़ा है रामअवतार की हत्या कांड का तार !

0
hatya cand

रामअवतार की मौत के बाद स्वजनों में मचा कोहराम

परवेज अख्तर/सिवान:- जिले के दरौंदा थाना क्षेत्र के हकेशपुर निवासी कमल महतो के पुत्र रामअवतार महतो का पोस्टमार्टम कर उसके घर शव आते ही स्वजनों के चीत्कार से माहौल गमगीन हो गया है। मृतक की पत्नी रिकू देवी, मां फुलझरी देवी, भाई अभिषेक महतो, बहन रीमा कुमारी एवं सीमा कुमार पिता कमल महतो का रो-रोकर बुरा हाल था। स्वजनों के चीत्कार से वहां उपस्थित लोगों की आंखें नम हो जा रही थीं।आसपास के ग्रामीण स्वजनों को ढाढ़स बंधा रहे थे। ज्ञात हो कि रविवार की रात करीब 10.30 बजे रामअवतार महतो अपने साथी गांव के ही सफी अहमद के पुत्र इलियास अहमद के साथ बाइक से दारौंदा थाना क्षेत्र के पसीवर बाजार से लौट रहा था।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
a1
ads
WhatsApp Image 2020-11-09 at 10.34.22 PM
Webp.net-compress-image
a2

तभी अपराधियों ने सिवान-पैगंबरपुर पथ के करसौत विद्यालय के समीप ओवरटेक कर उनकी बाइक रोक दी तथा रामअवतार महतो पर लगातार कई बार चाकू से वार कर दिया। इस दौरान रामअवतार को बचाने के दौरान इलियास को भी चाकू से वार कर घायल कर दिया। इस दौरान रामअवतार महतो की मौत घटनास्थल पर ही हो गई। ग्रामीणों ने घटना की जानकारी स्थानीय थाने को दी। सूचना मिलते ही महाराजगंज के तेज तर्रार एसडीपीओ पोलस्त कुमार व दारौंदा थाने की पुलिस पहुंच शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया तथा घायल को भी इलाज के लिए सदर अस्पताल पहुंचाया जहां से सदर अस्पताल के  चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए पीएमसीएच रेफर कर दिया।जहां उसका इलाज जारी है।

रामअवतार की इकलौती पुत्री का था छठियार 

रविवार को ही रामअवतार महतो की इकलौती पुत्री का छठियार रविवार को ही था। वह दो भाइयों में सबसे बड़ा था। उसे दो बहनें हैं। छठी के दिन उसकी हत्या होने से छठी की खुशियां गम में बदल गई। वहीं जिला पार्षद चंद्रिका राम, मुखिया डॉ. राजाराम राय ने हरकेशपुर गांव पहुंचकर मृतक के स्वजनों को ढाढ़स बंधाया। मुखिया डॉ. राजाराम ने घायल अलियास अहमद के साथ पटना पीएमसीएच तक गए थे।

रामअवतार की हत्या आर्केस्ट्रा से जुड़ा तार 

दरौंदा थाना क्षेत्र के मध्य विद्यालय करसौत के समीप रामअवतार महतो की हत्या का तार पसीवर में चल रहे आर्केस्ट्रा से जुड़ रहा है। बताया जाता है कि हरकेशपुर गांव में आर्केस्ट्रा का संचालन होता था, उस आर्केस्ट्रा में अलियास चालक था। इसी बीच अलियास से रामअवतार महतो की मुलाकात हो गई लोगों का कहना था कि हत्या के पीछे आर्केस्ट्रा वालों से जान पहचान या कोई विवाद हो सकता है।इस संबंध में थानाध्यक्ष अजीत कुमार सिंह ने बताया कि आर्केस्ट्रा वालों के यहां आना-जाना इन लोगों को पहले से ही था। पुलिस सभी बिदुओं पर गहराई से जांच कर रही है। वहीं एसडीपीओ पोलस्त कुमार ने कहा कि घटना में जो भी अपराधी शामिल हैं उसे शीघ्र गिरफ्तार कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि रविवार की रात्रि अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए कई जगह छापेमारी की गई है।लेकिन फिलहाल कोई भी सफलता हाथ नही लगी है।लेकिन जल्द ही घटना का खुलासा हो जाएगा।हत्या कांड पर पुलिस काम कर रही है।