सिवान के जदयू सांसद के खिलाफ बेतुका बयान देकर फंसे बड़हरिया के जदयू विधायक श्याम बहादुर सिंह

0

परवेज़ अख्तर/सिवान:
जिले के दारौंदा विधानसभा में मुख्यमंत्री की चुनावी सभा में अपनी ही पार्टी की सांसद कविता सिंह के खिलाफ बेतुका बयान देने वाले बड़हरिया विधायक श्याम बहादुर सिंह बुरी तरह से फंस गए हैं। इस मामले में जिला जेडीयू ने कड़ा रूख अपनाते हुए विधानसभा चुनाव के बाद एनडीए की सरकार बनने पर श्याम बहादुर सिंह के खिलाफ कार्रवाई करने की जानकारी दी है। जेडीयू ने विधायक को बड़बोलापन बयान नहीं देने की नसीहत भी दे डाली। जिला जेडीयू कार्यालय में आयोजित प्रेस कान्फ्रेंस में जिलाध्यक्ष इंद्रदेव सिंह पटेल ने सांसद के खिलाफ बड़हरिया विधायक की अर्मायदित टिप्पणी की निंदा की। कहा कि बड़हरिया विधायक ने घमंड व अहंकार में आकर सांसद को चैलेंज किया हैं। इससे सांसद समर्थकों की भावनाएं आहत हुई है। विधानसभा चुनाव बाद पार्टी इस मामले को गंभीरता से लेगा। इस मुद्दे पर शीर्ष नेतृत्व से बात की जा रही है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal
इंद्रदेव सिंह
इंद्रदेव सिंह पटेल

चुनाव बाद एनडीए की सरकार बनाने के लिए कार्य पर फोकस करने का निर्देश देते हुए जिलाध्यक्ष ने कहा कि कार्यकर्ता विधायक की ओछी हरकत पर ध्यान नहीं दें। मुख्यमंत्री की सभा में महिला सांसद पर विधायक की टिप्पणी को अपमानजनक बताते हुए कहा कि चुनाव जीतने के लिए श्याम बहादुर सिंह बड़बोलापन कर रहे हैं। जेडीयू जिलाध्यक्ष ने कहा कि गलत आदमी के कारण चुनाव प्रभावित नहीं होगा। बड़हरिया विधायक अपनी ओछी हरकत पर लगाम लगाएं। जल्द इस मुद्दे पर शीर्ष नेतृत्व से बात की जायेगी। जेडीयू जिला महासचिव संगीता पटेल के पति सुरेन्द्र पटेल की 2006 में हुई हत्या मामले में जेडीयू नेत्री द्वारा बड़हरिया विधायक के खिलाफ सीबीआई जांच की मांग के सवाल पर जिलाध्यक्ष ने कहा कि वह इसका समर्थन करते हैं। प्रेसवार्ता में जेडीयू के राज्य परिषद सदस्य निकेशचंद्र तिवारी, सांसद प्रतिनिधि लालबाबू प्रसाद, जयनाथ ठाकुर, सुनील कुमार, सौरभ कुमार व मंटू सिंह मौजूद थे।

अस्वस्थता के कारण शामिल नहीं हो सकीं थी सांसद

दारौंदा के धनौती में एनडीए समर्थित बीजेपी प्रत्याशी कर्णजीत सिंह उर्फ व्यास सिंह के समर्थन में मुख्यमंत्री की सभा में जदयू सांसद कविता सिंह का शामिल नहीं होना राजनीतिक गलियारे में चर्चा का विषय बना हुआ है। बीजेपी प्रत्याशी के समर्थन में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सभा में सांसद के शामिल नहीं होने को समाज का एक वर्ग जिले में एनडीए में फूट मान रहा है। हालांकि एनडीए में शामिल जेडीयू ऐसा नहीं मान रही है। जेडीयू जिलाध्यक्ष इंद्रदेव सिंह पटेल ने शुक्रवार को कहा कि सांसद मुख्यमंत्री की सभा में शामिल होने के लिए अपनी सहमति दे दी थीं, लेकिन अचानक अस्वस्थता के कारण सभा में नहीं शामिल हो सकी। दरौंदा में एनडीए प्रत्याशी के खिलाफ जेडीयू नेता अजय सिंह द्वारा कार्य किए जाने की ओर ध्यान दिलाने पर जेडीयू जिलाध्यक्ष ने कहा कि जेडीयू कार्यकर्ताओं की पार्टी है। एनडीए प्रत्याशी के खिलाफ जो भी कार्य करेगा कार्रवाई होगी।