जिले के 398 गांवों में चलेगा कालाजार रोगी खोज अभियान

0

परवेज अख्तर/सिवान:- जिले में कालाजार मरीजों की खोज के लिए दो सितंबर तक विशेष अभियान चलाया जाएगा। अभियान की शुरुआत मंगलवार से की गई। इसके तहत आशा कार्यकर्ता घर-घर जाकर कालाजार मरीजों की खोज करेंगी। इसको लेकर वेक्टर जनित रोग नियंत्रण कार्यक्रम के अपर निदेशक सह राज्य कार्यक्रम पदाधिकारी डॉ. एमपी शर्मा ने जिला वेक्टर जनित रोग नियंत्रण पदाधिकारी को आवश्यक दिशा निर्देश जारी किया है। उन्होंने अभियान की सफलता को लेकर क्षेत्र में व्यापक रूप से प्रचार-प्रसार करने की बातें कही है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
ads

अभियान की बागडोर 632 आशा और 133 आशा फैसिलिटेटर को सौंपी गई है। इसको लेकर आशा कार्यकर्ताओं को प्रखंड स्तर पर प्रशिक्षण भी दिया गया है। जिला वेक्टर जनित रोग नियंत्रण पदाधिकारी डॉ एमआर रंजन ने बताया जिले के 19 प्रखंडों के चयनित 397 गांवों में यह अभियान चलाया जाएगा। अभियान के तहत आशा कार्यकर्ता घर-घर जाकर कालाजार के मरीजों की पहचान करेंगी।

बता दें कि इसको लेकर जिले में 7 लाख 67 हजार 971 जनसंख्या तथा 1 लाख 34 हजार 754 घरों को लक्षित किया गया है। बताया कि कालाजार से पीड़ित रोगी को मुख्यमंत्री कालाजार राहत योजना के तहत श्रम क्षतिपूर्ति के रूप में पैसे भी दिए जाते हैं। बीमार व्यक्ति को 6600 रुपये राज्य सरकार की ओर से और 500 रुपए केंद्र सरकार की ओर से दिए जाते हैं। यह राशि बीएल (ब्लड रिलेटेड) कालाजार में रोगी को प्रदान की जाती है। वहीं चमड़ी से जुड़े कालाजार (पीकेडीएल) में 4000 रुपये की राशि केंद्र सरकार की ओर से दी जाती है।