खानकाह में चौथे दिन गागर शरीफ का हुआ आयोजन

0

हजारों की संख्या में अकीदतमंद अपने सरों पर गागर ले कर पहुँचे खानकाह

पूर्व मंत्री व राजद नेता अवध बिहारी चौधरी भी देर रात खानकाह पहुँच दी हाजरी

परवेज़ अख्तर/सिवान:- शहर के स्टेशन रोड स्थित खानकाह अमजदिया शरीफ में 130 वाँ सात दिवसीय सलाना उर्स के चौथे दिन रविवार को गागर शरीफ का आयोजन हुआ। देर रात पूर्व मंत्री व राजद नेता अवध बिहारी चौधरी खानकाह पहुँचे और सज्जादानशीन डॉ हयात अहमद अमजदी से मुलाकात की। और खानकाह स्थित सभी मजारो पर हाजरी दी। शाम चार बजे से शहर के विभिन्न मोहल्लों समेत ग्रामीण क्षेत्रों से भी लोग अपने सरों पर गागर लेकर सूफियाना कौव्वाली के साथ खानकाह पहुँचे। रात नौ बजे तक हज़ारो की संख्या में अकीदतमंद खानकाह पहुँच गये। इस मौके पर काफी भीड़ उमड़ पड़ी थी इसमे महिलाओं की संख्या भी अधिक थी। इसके बाद करीब रात ग्यारह बजे सरकारी (खानकाही) गागर का फतेहाखानी हुई। इसके बाद महफिले समा का आयोजन हुआ। जिसमें अबरार कौव्वाल, खैरुद्दीन कौव्वाल, एसरार कौव्वाल, अशरफ जमा कौव्वाल समेत दर्जनों कौव्वालो ने सूफियाना कलाम से समा बांधे रखा।

खानकाह

करीब साढ़े तीन बजे तक महफिले समा का प्रोग्राम हुवा। इस मौके पर खानकाह के सज्जादानशीन सैयद डॉ हयात अहमद अमजदी, डॉ इल्तेफात अमजदी, तनवीर अमजदी, बरकत अली, फारूक सिवानी, कांग्रेस नेता सैयद मोहिउद्दीन ललन, इक़बाल अहमद, नसीम अख्तर, डॉ ज़ाहिद सिवानी, शकील अहमद, गुलाम हुसैन, नईमुद्दीन अहमद, परवेज आलम, शाहिद अली सिद्दीकी, डॉ नैय्यर, डॉ असद, फिरोज अहमद, आजाद, सोनू, शमशाद अली, डॉ रिज़वान, मो.आरिफ, भोला बाबा, नन्हे, मोख्तार, फिरोज अहमद, लड्डन समेत काफी संख्या में लोग मौजूद थे। मिलादुन्नबी के बाद महफिले समा में खैरुद्दीन कौवाल, एसरार कौवाल, अशरफ जमा ने सूफियाना कौवाली पेश किया। खानकाह के सज्जादानशीन डॉ हयात अहमद अमजदी ने बताया कि 3 अप्रैल को सैयद शाह तसद्दुक अली रह.(पर वाले बाबा), हाकिम सैयद खुर्शीद रह। सैयद सगीर अहमद रह. के मजार शरीफ पर चादरपोशी होगी तथा इसी दिन रात 2 बजे कुल (फातेहा) व महफिले खाश का आयोजन होगा। 4 अप्रैल को बाद नमाजे फज्र सभी मज़ार शरीफ पर ग़ुस्ल शरीफ होगा सुबह 7 बजे कुल शरीफ के बाद समापन होगा। उन्होंने बताया कि सभी प्रोग्राम के बाद महफिले शमां का आयोजन होता है। जिसमे कौव्वाल सूफियाना कौवाली पेश करते है।