एक वर्ष पूर्व अपरहण कर की गई हत्या का खुलासा, हत्यारा गिरफ्तार

0

छपरा: जिले के मशरख थाना क्षेत्र के बंगरा गांव से एक वर्ष पहले अपहरण कर गला रेत हत्या के मामले में थाना पुलिस ने कामयाबी हासिल करतें हुए हत्यारे को गिरफ्तार कर लिया। मामला है कि पिछले वर्ष 2019 के नवम्बर महीने में बंगरा गांव से सुरेन्द्र राय का 16‌ वर्षीय पुत्र राजीव कुमार गायब हो गया जिसमें उसके पिता सुरेन्द्र राय ने थाना पुलिस को उसके गायब होने की आवेदन दिया जिसमें थानाध्यक्ष रत्नेश कुमार वर्मा ने कांड संख्या 501/19 दर्ज कर कांड अनुसंधानकर्ता जमादार श्याम बिहारी पांडेय को मामले में जांच पड़ताल शुरू करने का आदेश दिया। मामले में थाना पुलिस ने जांच-पड़ताल के दौरान गायब युवक के मोबाईल की काॅल डिटेल्स निकाली और जांच पड़ताल शुरू तों उसी गांव के श्याम बहादुर राय के पुत्र राहुल कुमार से अंतिम बात हुई थी उसकी खोजबीन की गई तों वह फरार हो गया था पुलिस टीम ने टोह लगाया तों छठ पूजा के दौरान उसके दादा जी का देहांत हो गया जिनके श्राद्धकर्म में शामिल होने वह आया था।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

मामले में मढ़ौरा डीएसपी इंद्रजीत बैठा के निर्देश पर थानाध्यक्ष श्री वर्मा द्वारा गठित पुलिस टीम ने टोह लगाकर गिरफ्तार कर लिया। मामले में थाना परिसर में मढ़ौरा डीएसपी इंद्रजीत बैठा ने जागते रहो मशरक को बताया कि गिरफ्तार युवक राहुल कुमार ने स्वीकारा की उसने घटना के दिन ही मृतक राजीव कुमार का अपहरण कर शाम में छपरा ले गया और वहां से सुबह में उसे खिला पिलाकर ऑटो से आरा जिला के बबुरा थाना क्षेत्र में सरसों के खेत में गला रेतकर फेक दिया और घटनास्थल से फरार हो गया। मामले में पुलिस जांच टीम ने अनुसंधान जारी रखा और मामले का खुलासा कर लिया।

थाना स्तर पर गठित अनुसंधान टीम जब मामले के जांच पड़ताल के लिए हत्यारे को लेकर आरा जिला के बबुरा थाना पहुंची तो घटना के दिन ही वहा के थाना में एक सरकटी लाश बरामद हुई थी जिसकी प्राथमिकी थाने में दर्ज करायी गई थी। वही जांच टीम मामले में और जांच पड़ताल कर रही है गिरफ्तार व्यक्ति ने चार और हत्यारे के हत्या काण्ड में संलिप्त होने की बात बताई गई जिसकी गिरफ़्तार के लिए पुलिस टीम लगी हुई है। वही सूत्रों ने बताया कि मामले में हत्यारे ने कुछ ऐसी बातें बताई है जिसकी जांच गुप्त तरीके से की जा रही है।