सोशल मीडिया के सहारे नवजात को ढूंढ रहे परिजन

0
social

परवेज अख्तर/सिवान :- सदर अस्पताल के महिला वार्ड से तीन दिन पूर्व चोरी हुई नवजात का अबतक कोई सुराग नहीं मिल सका है। लेकिन, नवजात के परिजनों ने अभीतक हार नहीं मानी है। नवजात के पिता कमलेश यादव व मां सीमा देवी को यकीन है कि उनकी पुत्री उन्हें मिल जाएगी। परिजनों को इस बात की कसक है कि पुलिस मामले में शांत पड़ गई है। वहीं अस्पताल प्रबंधन ने भी खुद को मामले से अलग कर लिया है। लेकिन कमलेश अपनी पुत्री को ढूढ़ने के अभियान में लगे हैं। इसके लिए उन्होंने सोशल मीडिया का सहारा लिया है। कमलेश और उनके जानने वाले सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक व व्हाट्सअप ग्रुपों पर नवजात का फोटो शेयर कर रहे हैं। साथ ही लोगों से उसे ढूढ़ने में मदद करने की अपील कर रहे हैं। इस दौरान अलग-अलग जगहों से नवजात से मिलती जुलती कई वीडियो व फोटो भी कमलेश यादव के पास आ रहे हैं। इसमें से एक वीडियो को देख कर कमलेश व उसके परिजनों को लगा कि वह उनकी बच्ची हो सकती है। लेकिन, बाद में ध्यान से देखने पर पाया गया कि वह किसी दूसरे राज्य का पुराना वीडियो है। इधर नवजात की मां सीमा देवी अब भी अस्पताल में ही भर्ती हैं। अस्पताल प्रबंधन ने महिला वार्ड में सामने वाले गेट को बंद कर दिया है। अब अंदर आने-जाने के लिए लेबर रूम के सामने वाले दरवाजे का इस्तेमाल किया जा रहा है। गौरतलब है कि 3 अप्रैल को दोपहर करीब साढ़े बारह बजे सदर अस्पताल से एक अज्ञात महिला ने नवजात बच्चे की चोरी कर ली। इसके बाद परिजनों ने बच्चों की ढूंढा, लेकिन उसका कहीं कुछ पता नहीं चला। परिजनों ने टाउन थाने में इसकी लिखित शिकायत की है।