पटना पुलिस ने दो बड़े कांड का किया खुलासा, एक महिला सहित कई अपराधी गिरफ्तार, 50 लाख लूट का भी हो गया उद्भेदन

0

पटना के अगमकुआं थाना क्षेत्र में बीते दिनों एक व्यवसाई से 50 लाख रुपये की लूटपाट की घटना को अपराधियों ने अंजाम दिया था. इस मामले को गंभीरता से लेते हुए एसएसपी ऊपेन्द्र शर्मा ने एक एसआईटी टीम का गठन किया. जिसके बाद पुलिस ने पांच अपराधी को गिरफ्तार किया है. आपको बता दे की पटनासिटी के सम्राट पेट्रोल पंप के पास पंजाब नेशनल बैंक में 50 लाख रुपए जमा कराने जा रहे व्यवसायी से अज्ञात अपराधियों ने पिस्टल के बल पर लूट की घटना को अंजाम दिया था। इसके अलावा पटना पुलिस ने गोपालपुर थाना क्षेत्र में हुए डकैती मामले का खुलासा किया है. बताते चलें की बीते दिनों एक घर मे दिनदहाड़े डकैती करने आधा दर्जन अपराधी घुसे थे. अपराधियो को सूचना लाइनर के माध्यम मिली थी की उस घर मे भारी मात्रा में कैश है. जिसके बाद अपराधी घटना को अंजाम देने के लिए घर में घुस गए।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

पचास लाख के लूट के दौरान अपराधियों ने दहशत फैलाने को लेकर फायरिंग भी की थी, जो मिस फायर हो गया था. जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल से एक खोखा भी बरामद किया था. वहीं एक जिंदा कारतूस अपराधियों से गिर पड़ा था. जिसे भी पुलिस ने बरामद कर लिया था. इस घटना को अंजाम देने के बाद अपराधियों ने कुछ दूर जाकर मोटरसाइकिल को छोड़ दिया था और उसके बाद टाटा इंडिगो कार से अपराधी फरार हो गए थे. पटना एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा ने मामले का खुलासा करते हुए बताया है कि इस घटना में सरगना नीतीश को पुलिस ने पकड़ा है, जो अन्य राज्य लुटेरे गिरोह से अपना संपर्क रखता था।

वह छत्तीसगढ़ में अपराध को कई घटना को अंजाम देने के साथ राजस्थान और झारखंड में भी सक्रिय था. एसएसपी ऊपेन्द्र शर्मा ने कहा की व्यवसाई के पूर्व चालक ने ही पूरी साजिश रची थी. पुलिस ने इनके पास से 2 लाख रुपये बरामद किया है. नीतीश नाम का अपराधी बाकी पैसे प्रॉपर्टी में लगा दिया है. पुलिस मामले की जाँच में जुट गई है.एसएसपी ने बताया ये सभी अपराधी छठ पूजा के समय बड़ी घटना को अंजाम देने वाले थे. लेकिन वो टल गया. बाकी पैसे अपराधी नीतीश ने कहाँ खपाये. इसकी जाँच चल रही है. इन सभी अपराधियो को गया से गिरफ्तार किया है. पुलिस ने अपराध में इस्तेमाल हथियार को भी बरामद किया है।

वहीं गोपालपुर डकैती कांड में कैश की जगह घर में केवल सिर्फ15 सौ रुपये ही मिले. इस तरह घटना में अपराधियों ने जो सोचा था, उनके मंसूबे पूरे नही हो पाए थे. घटना की जानकारी जैसे ही पुलिस को हुई. पुलिस ने मामले की गंभीरता से जांच शुरू की और सभी अपराधी पकड़े गए. एसएसपी ऊपेन्द्र शर्मा ने बताया कि ये घटना बड़ी थी. लेकिन घर मे कैश बरामद नहीं हो पाया. इस घटना में एक महिला लाइनर और बाकी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

लेकिन घटना दिलचस्प बात यह रही कि इस घटना में गिरफ्तार ऐसे अपराधी को पुलिस ने पकड़ा. जिसकी तलाश में पुलिस के पसीने छूट गए थे. लेकिन वह फरार था. कुछ साल पूर्व राजीवनगर थाना क्षेत्र में पंचवटी ज्वेलर्स में लूटपाट हुई थी. जिसका मुख्य अपराधी सूखा फरार चल रहा था. लेकिन डैकती की घटना में सुखा पकड़ा गया. तब पुलिस को जानकारी मिली की यह वही कुख्यात सूखा है. जिसने पंचवटी जेवर दुकान में लूट की थी. एसएसपी ने कहा की इनके आपराधिक इतिहास को खंगाला जा रहा है।