ललन सिंह ने कहा- हम BJP से नहीं, देश के PM से कर रहे विशेष राज्य के दर्जे की मांग….

0

पटना: जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह मुंगेर सांसद राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह ने बिहार को विशेष राज्य के दर्जे की मांग पर अपनी प्रतिक्रया देते हुए कहा कि हम बीजेपी से नहीं देश के प्रधानमंत्री से स्पेशल स्टेटस की मांग कर रहे हैं। उन्होंने इस मांग को जायज बताते हुए नीति आयोग की रिपोर्ट का भी हवाला दिया। उन्होंने बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष के उस बयान पर भी प्रतिक्रिया दी, जिसमें संजय जायसवाल ने जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष को नसीहत देते हुए कहा था कि वे स्पेशल स्टेटस की मांग करने वाले अन्य राज्यों के सीएम से भी जाकर मिलें, अगर ललन सिंह चाहेंगे तो बीजेपी भी उनके साथ चलेगी।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

मुंगेर में 71.15 करोड़ के मार्डन अस्पताल सहित 17 स्वास्थ्य केंद्रों के भवन का शिलान्यास करने पहुंचे ललन सिंह ने कहा कि हमारे बिहार का विकास दर पिछले दो वर्षों से दो अंकों में हैं, जबकि हमारे यहां संसाधन का अभाव है। यहां ना माइंस है और ना ही मिनरल्स है। बावजूद इसके, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कृषि को केंद्रित कर विकास अंक को दो अंकों में लाने की कवायद की। अभी नीति आयोग की जो रिपोर्ट आई, उसमें बिहार को कई मायने में पीछे बताया गया है। उसमें बिहार को पिछड़ा बताया गया। अरे भाई अगर हम कई पायदान में पिछड़े हैं, तो जब तक हमें विशेष मदद नहीं मिलेगी। विशेष राज्य का दर्जा नहीं मिलेगा। हम कैसे विकसित करेंगे। हम तो अपने बल पर, अपने संसधानों के बल पर, कृषि के आधार पर, इसके उत्पादन के आधार पर विकास दर दो अंको का हैं।

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल के प्रश्न पर जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा, ‘उनकी मांग किसी पार्टी से नहीं है, बल्कि देश के प्रधानमंत्री से है। देश का प्रधानमंत्री किसी दल के नहीं होते। उनसे मांग करना सभी का हक है। जबतक विशेष राज्य का दर्जा नहीं मिलेगा बिहार आगे नहीं बढ़ेगा।’

उन्होंने आगे कहा कि बिहार विधान मंडल से जब सर्वसम्मत प्रस्ताव पास हुआ था, तो भाजपा भी इस मांग पर सहमत थी।आज अगर असहमत हैं, तो उनको इतना ही कहना चाहिए, देश के हर नागरिक को देश के आदरणीय प्रधानमंत्री जी से मांग करने का हक है। मेरी मांग देश के प्रधान से है-भाजपा के प्रधान से नहीं है। मेरी मांग से कोई भी सहमत या असहमत हो सकता है लेकिन मेरी मांग प्रदेश के हित में है और उसे करते रहेंगे।

ललन सिंह ने कहा कि हम विशेष राज्य के दर्जे की मांग कर रहे हैं। नीति आयोग का फुल फार्म क्या है। नेशनल इंस्टीट्यूशन फॉर ट्रांसफॉर्मिंग इंडिया है ना, तो ट्रांसफॉर्मेशन कैसे होगा। इंडिया का ट्रांसफॉर्मेशन कैसे होगा? जब तक पिछड़े राज्य विकसित नहीं होंगे। इंडिया ट्रांसफॉर्म नहीं करेगा। ये हमारी मांग, ये जायज मांग है, बिहार के हित की मांग है। बिहार के लोगों के हित की मांग है। इसलिए हम विशेष राज्य के दर्जे की मांग कर रहे हैं।