विधान परिषद चुनाव….कांग्रेस को RJD की चुनौती स्वीकार…कांग्रेस ने संभावित उम्मीदवारों की सूची केंद्रीय नेतृत्व को भेजी

0

पटना: बिहार में विधान परिषद की 24 सीटों पर चुनाव होने हैं। इस चुनाव में बिहार की सबसे पार्टी राजद सहयोगी दल कांग्रेस से पीछा छुड़ाने में जुटी है। तभी तो बिना कांग्रेस की सहमति के ही विप की कई सीटों पर कैंडिडेट तय कर दिये हैं और चुपके-चुपके उन नामों को सार्वजनिक कर दिया। बातचीत हुई नहीं और राजद की तरफ से उम्मीदवार उतारने के बाद कांग्रेस पार्टी भी देर से ही सही लेकिन जाग गई है। कांग्रेस ने राजद पर गंभीर सवाल खड़े करते हुए साफ कह दिया है कि हमें कमजोर न समझें । बिहार कांग्रेस कमिटी ने संभावित उम्मीदवारों की लिस्ट केंद्रीय नेतृत्व को भेज दी है। हरी झंड़ी मिलने के बाद अपने उम्मीदवारों का ऐलान करेगी।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
metra hospital

बिहार में विप की 24 सीटों पर चुनाव होने हैं। 2015 में राजद-कांग्रेस व जेडीयू एक साथ थी। लिहाजा कांग्रेस समर्थित चार उम्मीदवार सहरसा, कटिहार, पूर्णिया और पश्चिमी चम्पारण से चुनाव लड़े थे। लेकिन इस बार कांग्रेस-राजद में समझौता नहीं हुआ और आरजेडी ने कई उम्मीदवार मैदान में भी उतार दिये। सहमति के बिना उम्मीदवार उतारने पर कांग्रेस ने राजद पर हमला बोला है। पार्टी का मानना है कि राजद नेतृत्व का यह कृत्य गठबंधन के नियमों के विरूद्ध है। बिहार कांग्रेस के प्रवक्ता कुंटल कृष्णा ने कहा है कि सहयोगी दल गठबंधन धर्म का पालन नहीं कर रहा।

बिना बातचीत अगर कोई दल अपना प्रत्याशी मैदान में उतार रहा तो स्वाभाविक है कि वो गठबंधन के जो तय नियम हैं उसका पालन नहीं कर रहा। सहयोगी दल के नेता अपनी डफली अपनी राग अलाप रहे हैं। कांग्रेस पार्टी चाहती है कि राजद गठबंधन के नियमों का पालन करे। कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि कांग्रेस पार्टी को राजद कमजोर न समझे। अगर गठबंधन में बातचीत आगे नहीं बढ़ी तो हम उम्मीदवार देंगे। बिहार कांग्रेस कमिटी ने संभावित उम्मीदवारों की लिस्ट केंद्रीय नेतृत्व को भेज दी है। वहां से हरी झंड़ी मिलने के बाद चुपके-चुपके नहीं बल्कि सदाकत आश्रम से ऐलान करेंगे।

वहीं, कांग्रेस के राज्यसभा सांसद डॉ. अखिलेश प्रसाद सिंह ने कहा है कि विप चुनाव में सीटों के बंटवारे पर राजद से बातचीत चल रही है। जब तक बातचीत पूरी नहीं हो जाये तब तक कुछ नहीं कहा जा सकता। इंतजार कीजिए। विप चुनाव में कांग्रेस की तरफ से सात सीटों की मांग पर राजद ने बड़ा हमला बोला है। राजद प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा है कि सत्यनारायण भगवान का प्रसाद है क्या? हमारे नेता तेजस्वी यादव सभी सीटों पर चुनाव की तैयारी में जुटे हैं।

बिहार कांग्रेस के अध्यक्ष मदन मोहन झा ने भी कहा था कि विधान परिषद चुनाव को लेकर सीटों पर अभी तक समझौता नहीं हुआ है। राजद नेताओं से बात हुई है। हमने उतनी ही सीटों की मांग की है जितना लालू प्रसाद पहले कह चुके हैं। बिहार कांग्रेस अध्यक्ष ने साफ कहा कि राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने कहा था कि कांग्रेस को 24 में से 6-7 सीटें दी जा सकती है। हमलोग राजद से बातचीत में इतनी सीटें ही मांगी है। लेकिन अभी तक सहयोगी दल राजद नेतृत्व की तरफ से हमारे प्रस्ताव पर कुछ भी नहीं कहा गया।

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here