डाटा एंट्री ऑपरेटरों के पक्ष में उतरी सांसद, मुख्यमंत्री को लिखा पत्र

0
hadtal

परवेज अख्तर/सिवान :-  डाटा एंट्री ऑपरेटर की हड़ताल लंबे समय से जारी है.  डाटा एंट्री ऑपरेटर अपने आप को सरकार द्वारा चयनित एजेंसी उर्मिला इंटरनेशनल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड में शामिल करने की मांग कर रहे हैं. उनका कहना है कि वे पिछले कई वर्षों से यह कार्य कर रहे हैं.  तथा अनुभवी हैं. वहीं सरकार द्वारा चयनित एजेंसी एक साजिश के तहत उन्हें हटाने का प्रयास कर रही है. इसको लेकर आपरेटर अनिश्चित कालीन हड़ताल पर हैं. इसको लेकर डाटा इंट्री ऑपरेटर में जिला संयोजक मनोरंजन ओझा के नेतृत्व में कविता सिंह से मिलकर अपने साथ न्याय कराने की मांग की.

विज्ञापन
aliahmad
vigyapann
vig
web designing

स्थानीय सांसद कविता सिंह ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर राज्य के चयनित एजेंसी का करार रद्द करने की मांग की. उनका कहना था कि उक्त एजेंसी द्वारा 2399 युवा डाटा इंट्री आपरेटरों से वसूली और शोषण किया जा रहा है. जिला स्वास्थ्य कमेटी पटना द्वारा इसे 25 अक्टूबर 2019 को ब्लैक लिस्टेड कर दिया गया था. इसके बावजूद भी इस कंपनी से करार किया गया है .जो कि न्यायसंगत नहीं है.उन्होंने सरकार से उक्त संस्थान से करार समाप्त कर डाटा इंट्री आपरेटरों के साथ न्याय करने की मांग की है.

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here