लिच्छवी में सवार दंपती को चाकू मार किया घायल

0
lichhhavi

परवेज अख्तर/सिवान :- मुज़फ़्फ़रपुर से दिल्ली जा रहे एक दंपती को शनिवार की सुबह लिच्छवी में सवार कुछ शरारती तत्वों ने चाकूमार कर गंभीर रूप से घायल कर दिया। घायल यात्री को आरपीरफ और जीआरपी की मदद से इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। घायल मुजफ्फरपुर निवासी मो. इलियास का पुत्र मो. नईम बताया जाता है वह अपने दंपती के साथ दिल्ली के तिलक नगर में रहता है। उसके साथ परिवार के नौ सदस्य दिल्ली जा रहे थे। तभी चैनवा स्टेशन पर कुछ शरारती तत्व चढ़े और सीट पर बैठने को लेकर उक्त दंपती से उलझ गए। सिवान जंक्शन पर ट्रेन रुकने के दौरान शरारती तत्वों ने पहले नईम की पत्नी को तथा नईम को नेल कटर में लगे चाकू से घोंपकर घायल कर दिया और सिवान जंक्शन पर ट्रेन रुकने के बाद फरार हो गए। ट्रेन रुकने के बाद जीआरपी एवं आरपीएफ पुलिस ने घायल दंपती को इलाज के लिए सदर अस्पताल भेजवाया जहां जीआरपी के देखरेख में सदर अस्पताल में इलाज चल रहा था। नईम ने बताया कि मुजफ्फरपुर में शादी समारोह में आए थे। शादी खत्म होने के बाद वापस लिच्छवी एक्सप्रेस के जेनरल बोगी में सवार होकर आनंद बिहार जा रहा थे। मेरा टिकट नंबर 44315345 है। इसी बीच चैनवा स्टेशन में कुछ लड़के आए और इसी बोगी में सवार होकर सीट पर बैठने के लिए मेरी पत्नी रानी खातून से बकझक करने लगे। देखते ही देखते बोगी में चढ़े उसके साथ लोगों ने भी मेरे साथ मारपीट की। ट्रेन जैसे ही सिवान जंक्शन पहुंची तो इसी बीच किसी ने नेल कट्टर के चाकू से शरीर पर वार कर मुझे तथा मेरी पत्नी रानी खातून को घायल कर भाग गए। इसके बाद इसकी सूचना आरपीएफ और जीआरपी को मिली। इसके बाद उसका इलाज के लिए सदर अस्पताल में भेजा दिया गया।

आरपीएफ प्रभारी अजय कुमार सिंह ने बताया कि एक दंपती को चाकू मारने की सूचना मिली तो मैं खुद जाकर ट्रेन में देखा तो एक नईम नाम का यात्री घायल पड़ा हुआ है तो उसे सदर अस्पताल भेजा दिया गया। ट्रेन में यात्रियों से पूछताछ की गई तो पता चला कि यहां दंपती मुजफ्फरपुर से ट्रेन के जेनरल कोच में सवार चढ़े थे। इनकी संख्या नौ थी। इसी बीच चैनवा स्टेशन पर एक व्यक्ति ट्रेन में चढ़ा जिसके बाद सीट पर बैठने को लेकर बकझक हुई जिसके बाद नईम और उसकी पत्नी ने उस व्यक्ति को मार पीटा तो उक्त व्यक्ति ने मौका देख इस दंपती पर नेल कट्टर के चाकू से मार कर घायल कर फरार हो गया।